क्या हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म काउंट घटता है, जाने सच - Does everyday physical relationship decrease sperm count in Hindi - Healthunbox
हेल्थ टिप्स

क्या हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म काउंट घटता है, जाने सच – Does everyday physical relationship decrease sperm count in Hindi

क्या हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म काउंट घटता है, जाने सच - Does everyday physical relationship decrease sperm count in Hindi

भारत में रोज शारीरिक संबंध बनाने के बारे में कई तरह की धारणाएं फ़ैली हैं, जैसे हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म काउंट घटता है। यहां तक कि लोग बांझपन के मुख्य कारण के बारे में भी नहीं जानते हैं। आपने अक्सर सुना होगा कि हफ्ते में एक बार शारीरिक संबंध बनाना सेहत के लिए अच्छा होता है।

यह आपकी प्रजनन क्षमता को भी प्रभावित नहीं करता है, लेकिन अगर आप बार-बार शारीरिक संबंध बनाते हैं, तो यह पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या को कम करता है और उनमें बांझपन को बढ़ाता है। आज हम हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म काउंट पर क्या असर होता है के बारे में बात करने वाले हैं जानने के लिए पूरा लेख पढ़े।

रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म पर क्या असर होता है? – What is the effect of daily physical relationships on sperm?

रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म पर क्या असर होता है

डेली सेक्स शुक्राणु के डीएनए की क्षति और प्रजनन क्षमता में सुधार करने में मदद करता है।

दरअसल, हमारे शरीर को नया स्पर्म बनाने में 24-36 घंटे लगते हैं। लगातार शारीरिक संबंधों के कारण स्पर्म काउंट कम हो जाता है, लेकिन उसके बाद बनने वाले ताजे शुक्राणुओं में अधिक गतिशीलता होती है और इस वजह से प्रजनन क्षमता पर उनका अच्छा प्रभाव पड़ता है।

ताजा शुक्राणु अधिक जीवंत, गतिशील और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने वाले होते हैं। इसलिए, यदि शुक्राणु लंबे समय तक शरीर में रहते हैं, तो यह भी कम प्रजनन क्षमता यानी इनफर्टिलिटी का कारण बनता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि इनफ्रिक्वेंट यानी कभी-कभी स्खलन पुरुषों में प्रजनन क्षमता के जोखिम को बढ़ा सकता है और एक व्यक्ति स्खलन के बिना 7 दिनों से अधिक समय तक नहीं रह सकता है, अगर वह 7 दिनों के अन्दर स्खलन नहीं करता है तो उसके स्पर्म पर इसका गलत असर पड़ता है।

हर 2-3 दिन में शारीरिक संबंध बनाना सही है – It is right to have a physical relationship every 2-3 days

हर 2-3 दिन में शारीरिक संबंध बनाना सही है - It is right to have a physical relationship every 2-3 days

अगर आप पिता बनना चाहते हैं, तो आपके लिए हर 2-3 दिन में शारीरिक संबंध बनाना सही है। यह महिला के अंडे को निषेचित करने के लिए ताजा शुक्राणु उपलब्ध कराता है, जो गर्भावस्था की संभावना को बढ़ाने में मदद करता है।

इसलिए, अब आपको इस डर को अपने दिमाग से निकाल देना चाहिए कि ज्यादा सेक्स आपकी प्रजनन क्षमता को नुकसान पहुंचाता है और आपके स्पर्म काउंट को निचले स्तर तक ले जाता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि लंबे समय तक शरीर में शुक्राणुओं की मौजूदगी के कारण उनका डीएनए भी क्षतिग्रस्त हो सकता है। शुक्राणु खुलेपन और गर्मी के प्रति बहुत संवेदनशील होते हैं।

सारांश: एक नए अध्ययन के अनुसार, सात दिनों के लिए हर दिन सेक्स (या रोजाना स्खलन) डीएनए की क्षति को कम करके पुरुषों के शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार करता है। अब तक प्रजनन विशेषज्ञों के बीच कोई साक्ष्य-आधारित आम सहमति नहीं बन पाई है कि पुरुषों को अपने पार्टनर के साथ गर्भधारण करने का प्रयास करने से पहले कुछ दिनों के लिए सेक्स से बचना चाहिए या नहीं।

क्या हर रोज शारीरिक संबंध बनाने से स्पर्म काउंट घटता है, जाने सच (Does everyday physical relationship decrease sperm count in Hindi) का यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।

और पढ़ें –

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration