लड़का पैदा करने के घरेलू उपाय – ladka paida karne ke gharelu upay in hindi

लड़का पैदा करने के घरेलु उपाय - ladka paida karne ke gharelu upay in hindi
Written by Daivansh

भारत ही नहीं विश्व के लगभग हर समाज को हम पुरुष प्रधान कह सकते हैं इसलिए कहीं न कहीं सभी माता-पिता के मन में पुत्र प्राप्ति की चाह रहती है। अधिकांश लोग यही मानते हैं कि लड़कियाँ शादी करके अपने ससुराल चली जाती हैं जबकि बेटा उनके बुढ़ापे का सहारा होता है। इसके लिए लोग विभिन्न प्रकार के लड़का पैदा करने के घरेलू उपाय के बारे में जानना चाहते है।

माँ के गर्भ में लड़का या लड़की बनने की प्रक्रिया – The process of becoming a boy or girl in a mother’s womb in Hindi

पुरुष के वीर्य में 2 तरह के शुक्राणु होते है ये दोनों तरह के सुक्राणु ही निर्धारित करते है की गर्भ में लड़का बनेगा या लड़की, अब आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा की ऐसा कैसा होता होगा तो चलिए समझते है।

सुक्राणु दो टाइप के होते है जिन्हें साइंस की भाषा में क्रोमोजोम (chromosome) कहते है जो X क्रोमोजोम और Y क्रोमोजोम होते है पुरुष में ये दोनों तरह के X और Y क्रोमोजोम पाए जाते है जबकि स्त्री के अंडाशय में केवल दो XX क्रोमोसोम ही होते हैं जब सम्भोग के बाद पुरुष के वीर्य का Y क्रोमोजोम महिला के अंडे (eggs) से मिलता है तब लड़का पैदा होता है और यदि गर्भाधान के समय यदि स्त्री के  X क्रोमोसोम पुरुष के X क्रोमोसोम से मिल जाये तो लड़की का जन्म होता है।

इस सर्वमान्य वैज्ञानिक तथ्य से यह साबित होता है की लड़की या लड़के के जन्म के लिए पुरुष ही जिम्मेदार होता है। किसी स्त्री को लड़के को जन्म न देने के लिए दोषी ठहराना सर्वथा अनुचित है।

पुत्र प्राप्ति के लिए गर्भ धारण करने का तरीका – How to conceive for boy in Hindi

पीरियड (Period) की सही गिनती करें मासिक धर्म (Period) शुरू होने वाले दिन को पहला दिन गिनना चाहिए।

पुत्र प्राप्ति के लिए मासिक धर्म (Period) शुरू होने वाले दिन से गिन कर चौथी, छठी, 8वीं, 10वीं, 12वीं, 14वीं और 16वीं रात को सम्भोग करना चाहिए।

जबकि पुत्री प्राप्ति के लिए 5वीं, 7वीं, 9वीं, 11वीं, 13वीं तथा 15वीं रात को सम्भोग करना चाहिए।

  • अगर आपका मासिक धर्म (Period 10 April) को रात 9 बजे शुरू हुआ है तो 11 April को रात 9 बजे आपके मासिक धर्म का एक दिन पूरा होगा।
    ध्यान रखें, आप 11 April को दूसरा दिन न गिनें। पीरियड शुरू होने के 24 घंटे के बाद हीं दूसरा दिन गिनें।
  • अगर आपको बेटा चाहिए तो जबतक गर्भ ठहर नहीं जाता है, तबतक 5वीं, 7वीं, 9वीं, 11वीं, 13वीं तथा 15वीं रात को Sex नहीं करें।
    उसी तरह अगर आपको बेटी चाहिए तो चौथी, छठी, 8वीं, 10वीं, 12वीं, 14वीं और 16वीं रात को गर्भधारण होने से पहले Sex न करें।
  • आपकी गिनती में 1 भी घंटे की गलत नहीं होनी चाहिए। गलत गिनती आपको इच्छित परिणाम प्राप्त नहीं होने देगी।
  •  जाने: जल्दी और आसानी से गर्भवती होने के तरीके

लड़का पैदा करने के घरेलू उपाय – Home remedies for getting a boy in Hindi

लड़का पैदा करने के घरेलू उपाय है पेय पदार्थ

पुत्र की प्राप्ति के लिए स्त्री के साथ संभोग करने से 15 से 30 मिनट पहले 2-3 कप चाय या तेज कॉफी पीनी चाहिए। ऐसा इसलिए करना चाहिए ताकि लड़का पैदा करने के लिए जरूरी Y शुक्राणुओं की गति तेज हो सके और उनके जिंदा रहने की शक्ति बनी रहती है। इसी तरह लड़का पैदा करने के लिए स्त्री को भी संभोग करने से पहले कॉफी का सेवन करना चाहिए। अगर महिला न ले पाए तो पुरुष को तो कॉफी आदि पी ही लेनी चाहिए। संभोग करने के बाद स्त्री को ठंडा पानी पीना चाहिए।

(और पढ़े: इस घरेलु प्रेगनेंसी टेस्‍ट से मालूम करें आप प्रेगनेंट है कि नहीं?)

संभोग के समय आसन – Position during intercourse In Hindi

लड़के की प्राप्ति के लिए पुरुष को अपने लिंग को पत्नी के पीछे से योनि में प्रवेश कराना चाहिए इससे शुक्राणु सीधे गर्भाशय के द्वार पर पहुच जाते है। महिला के गर्भाशय का मार्ग योनि की अपेक्षा अधिक क्षारीय होता है। योनि मार्ग में मौजूद अम्लीय वातावरण के कारण ही पुरुष के (y) शुक्राणु नष्ट हो जाते है।

बार-बार संभोग करना है लड़का पैदा करने के घरेलू उपाय

लडका पैदा करने के लिए स्त्री और पुरुष दोनों को ऊपर बताये गए दिनों के अनुसार संभोग करना चाहिए यानि की एक रात में कम से कम 2-3 बार तो इस क्रिया को करना ही चाहिए। ऐसा करने पर शुक्राणुओं की संख्यां में बढ़ोतरी होती है और (Y) शुक्राणुओं को लाभ मिलता है जिससे पुरुष का y और महिला का x सुक्राणु मिलकर पुत्र का निर्माण प्रारंभ करते हैं।

(और पढ़े: गर्भ में पल रहा बच्चा क्यों मारता है किक)

लड़का पैदा करने के घरेलू उपाय में सामिल है काम-उत्तेजना Excitement

यदि पति और पत्नी दोनों संतान के रूप में पुत्र पैदा करना चाहते हैं तो लड़का पैदा करने के लिए संभोग क्रिया करते समय पुरुष के संतुष्ट होने से पहले पत्नी को उत्तेजना की चरमसीमा (चरम शुख ) पर पहुंचना चाहिए। ऐसा अगर संभोग करते समय हर बार हो तो यह लड़का पैदा होने की संभावना को बढ़ा देता है।

लड़के की चाह है तो रहे तनाव मुक्त be tension free to get a boy

पति और पत्नी को अगर लड़के की चाहत है तो उन दोनों को संभोग करते समय दोनों को तनाव मुक्त रहना चाहिए और अपना सारा ध्यान संभोग क्रिया पर लगाना चाहिए। न की बच्चे के बारे में सोचने में क्योकि यह पल आपके लिए भी खास होता है जिसका पूरा आनदं आपको लेना चाहिए।

लड़की (पुत्री) पैदा करने के लिए To conceive for girl in Hindi

जिन जोड़ो को पुत्री पैदा करने की चाह है उन्हे लड़का पैदा करने के लिए जो उपाय बताये गये है उसके विपरीत क्रिया पर चलना है जैसे पुत्र की प्राप्ति के लिए शुक्लपक्ष और समरात्रि को संभोग करना चाहिए। उसी प्रकार लड़की प्राप्त करने के लिए कृष्णपक्ष और विषमरात्रि को संभोग करना चाहिए। इसके अलावा पुरुष के लिए जो भी चीजों का सेवन करना बताया गया है उसे उन चीजों का सेवन नहीं करना। इसके अलावा और जो कुछ लड़का पैदा करने के लिए होता है लड़की पैदा करने के लिए बिल्कुल उसके विपरीत होता है।

पुत्र और पुत्री का गर्भ में बनना एक संयोग मात्र है ऊपर बताये गए उपाय इस संयोग को बढ़ा सकते है।

(और पढ़े – जाने गर्भ में लड़का होने के लक्षण क्या होते है)

Leave a Comment

5 Comments

Subscribe for daily wellness inspiration