गंजेपन का घरेलू इलाज – Home remedies of baldness in Hindi

गंजेपन का घरेलू इलाज - Home remedies of baldness in Hindi
Written by Diksha

आज के समय में बालो का गिरना मतलब हेयर फॉल होना सबसे कॉमन समस्या बन गई है किसी भी उम्र के लोगो में हेयर फॉल की समस्या देखने को मिलने लगी है अगर सही समय पर सही तरीके से हेयर फॉल को नहीं रोका गया तो ये गंजेपन का कारण भी बन सकता है आज हम इस लेख में गंजेपन का घरेलू इलाज के बारे में जानेगे इन घरलू उपाय को अपनाकर आप अपने बालो का गिरना रोक सकते है और हेयर फॉल की जटिलता से बच सकते है आइये जानते है गंजापन कैसे दूर करें-

गंजापन के कारण Hair Loss Causes in Hindi

गंजेपन के कई कारण हो सकते है जिसमे से मुख्य इस प्रकार है

  • हार्मोन असंतुलन का होना
  • बालों में डेंड्रफ होना है गंजेपन का कारण
  • बालों की देखभाल न करना तेल की कमी
  • शारीरिक और मानसिक तनाव होने से गंजापन आना
  • बालों पर डाई और कलर का अधिक प्रयोग करना
  • किसी मेडिसिन (दवा) का साइड इफ़ेक्ट होना
  • जरुरी पोषण न मिलने से बालों की जड़े कमज़ोर होना

ये कुछ ऐसे कारण है जिनसे हेयर फॉल तेज़ी होने लगता है और बाल टूटने और झड़ने लगते है और धीरे धीरे गंजापन आने लगता है। नहाते समय 10 – 50 बालो का झाड़ना आम बात है क्योकि इतने बल फिर से उग आते है परन्तु यह आकड़ा यदि 100 को पर कर जाये तो चिंता की बात होती है क्योकि इतनी तेजी से नए बाल नहीं उग पते जितनी तेजी से वो झड़ते है

गंजेपन का घरेलू इलाज – Home remedies for hair fall in Hindi

यदि हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है तब भी हमारे सिर से बाल झड़ने लगते हैं यदि आप भी बालो का गिरना नहीं रोक पा रहे है और हेयर लोस से परेशान हो रहे हैं तो आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं जो आपके बालों को पुनः वापस लाने में आपकी सहायता करेंगे. आइये जानते है गंजेपन का घरेलू इलाज के बारें में

गंजेपन का घरेलू इलाज में मेथी का उपयोग

वैसे तो मेथी का उपयोग खाने के रूप में किया जाता है लेकिन इसमें कई सारे पोस्टिक तत्व होते हैं जो आपको स्वस्थ बनाते हैं और दही भी आपके लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक होता है यदि मेथी और दही को मिलाकर आप उपयोग करते हैं तो आपके गंजेपन की समस्या दूर हो जाती है मेथी और दही को उपयोग करने के लिए  सबसे पहले मेथी को 12 घंटे के लिए पानी में फिगोकर रख देना है और फिर इस मेंथी को अच्छी तरह से पीस लेना है और इसे दही में मिलाकर एक पेस्ट तैयार करना है.

अब इस बने हुए पेस्ट को अपने बालों की जड़ों पर लगाएं और लगभग 1 घंटे तक इसे सही लगा रहने दें आपका गंजापन दूर हो जाएगा. गंजेपन का घरेलू इलाज बहुत ही आसान है. और धीरे-धीरे आपके सिर पर से बाल उगना उगना शुरू हो जाएंगे.ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मेथी और दही में  निकोटिनिक एसिड और प्रोटीन बहुत ही अच्छी मात्रा में होता है जो कि बालों की जड़ों में पहुंचकर उन्हें पोषित करता है जिससे बालों की ग्रोथ बढ़ने लगती है और कुछ ही दिनों में आप अपने बालों को देख सकते हैं.

उड़द की दाल से गंजेपन का घरेलू इलाज

उड़द भी आपके गंजेपन को दूर करने में आपकी मदद कर दिया क्योंकि ऐसा माना जाता है कि दालों के भीतर कई प्रकार के पोषण युक्त तत्व होते हैं जो आपके शरीर और आपके बालों को स्वस्थ रखते हैं उड़द की दाल का प्रयोग करने के लिए आपको इस साल को उबालकर पीस लेना है ध्यान रहे इस दाल के छिलके को निकाल लेना है और रात को सोने से पहले इसको लेप की तरह अपने बालों पर लगाना है और रात भर इसी तरह इससे लगा रहने देना है और इसे अपने किसी तौलिए से ढक लेना है क्योंकि इससे आपके कपड़े खराब हो सकते हैं यदि आप ऐसा हफ्ते में लगभग चार से पांच बार करते हैं तो आपके गंजेपन की समस्या दूर हो जाती है और बालों का झड़ना भी कम हो जाता है.

गंजेपन का आयुर्वेदिक उपचारAyurvedic treatment of baldness in hindi

मुलेठी है गंजेपन का रामबाण इलाज

यदि आप अपना गंजापन दूर करना चाहते हैं तो मुलेठी आपके लिए एक अच्छा तरीका साबित हो सकती है मुलेठी का उपयोग करने के लिए इसे पीस लेना है और इसमें दूध और केसर मिलाकर एक लेप तैयार करना है अब इस पेस्ट को सोने से पहले अपने सिर पर अच्छी तरह से लगा लेना है और इसे रात भर लगा रहने देना है और सुबह उठकर अपने बालों को शैंपू से अच्छी तरह धो लेना है ऐसा यदि आप हफ्ते में दो से तीन बार करते हैं तो आपके बालों का झड़ना कम हो जाएगा और आपका गंजापन भी दूर हो जाएगा

आंवला, ब्राह्मी तथा भृंगराज का जादुई मिश्रण करेगा गंजापन दूर

आंवला, ब्राह्मी तथा भृंगराज इन तीनो को ही आयुर्वेद में बालों के लिए सर्वश्रेष्ठ माना गया है क्योंकि ये आपके बालों का झड़ना रोकते है और आपके नए और सुन्दर और चमकदार बाल उगाने में आपकी सहायता करते है. आंवला, ब्राह्मी तथा भृंगराज ये तीनों ना केवल गंजापन, बल्कि कई सारे रोगों को दूर करते है और गंजेपन को कम करने के लिए आपको इसकी विधि के बारे जान लेना जरूरी है. बालों में लगाने के लिए आप इन तीनों को एक साथ मिलाकर पीस लें. इस मिश्रण को लोहे के बर्तन में फूलने के लिए रख दें और सुबह के समय में इसको पीस कर लेप बना लें इसको अपने बालों में 15 मिनट तक लगाना है  ऐसा सप्ताह में दो बार करने से बाल झड़ना रुक जाते हैं.

भृंगराज तेल से करें बालो का गिरना कम

भृंगराज एक औषधि है जिसको एक्‍लिप्‍टा एल्‍बा नाम से भी पुकारते हैं।

आयुर्वेद में इसे ‘रसायन’ माना जाता है। इसके इसी गुण के कारण हर हेयर केयर उत्‍पाद में यह जरूर

भृंगराज तेल ना केवल बालों के लिये ही बल्‍कि स्‍किन के लिये भी काफी अच्‍छा माना जाता है। यह एक्‍जिमा की बीमारी में काफी लाभ पहुंचाता है। अगर आपको भी बालों से जुड़ी काफी समस्‍या हैं तो आप इस तेल का प्रयोग कर सकते हैं और लाभ ले सकते हैं।

इस तेल का प्रभाव आपको काफी जल्‍दी देखने को मिल सकता है। आपको इसे जादा देर तक नहीं लगाना है इस तेल को आप कुछ घंटों के लिये लगाएं इतने में ही आपको इसका बेस्‍ट रिजल्‍ट देखने को मिलेगा।

हेयर आयल से मसाज से करें बालो का गिरना कम

बाल उगाने हो या बालों को घाना करना हो हेयर आयल से मसाज करना उत्तम उपाय है। जैतून तेल, नारियल तेल, आंवले का तेल भृंगराज के तेल और बादाम तेल बालों के लिए काफ़ी उपयोगी है। इन सभी तेल में से आप कोई भी तेल चुन सकते है और हफ्ते में दो से तीन बार सिर की मसाज करे। मालिश से पहले तेल को गुनगुना कर ले ताकी तेल सिर में अच्छे से समा सके। इस तेल की मसाज से आपके बाल काफी तेजी से बढ़ सकते हैं भृंगराज के तेल से नियमित मसाज करने से स्‍कैल्‍प पर संक्रमण नहीं होता। इससे डैंड्रफ दूर रहती है। और पढ़े – करीना कपूर ने प्रेग्नेंसी के बाद कैसे रोका बालों का झड़ना

बालों की समस्या में प्याज है रामबाण

बालों से जुडी कोई भी समस्या हो उसके समाधान में प्याज रामबाण का काम करता है। नए बाल उगाने के लिए और गंजेपन से छुटकारा पाने में प्याज का रस बेहद असरदार है। प्याज को बीच से काट ले और सिर पर जिस जगह बाल उड़ गये हो उस जगह 5 मिनट तक आधे प्याज को रगडे।

  • प्याज़ के रस को कस कर निकालें और छानें ।
  • प्याज़ के रस को अपने सर पर दिन में दो बार 30 मिनट के लिए लगाएँ, फिर धो लें। इस प्रकृतिक विधि को क़रीब 6 हफ़्ते तक करें और देखें की बाल झडना बंद होता है कि नहीं।

कुछ दिन लगातार इस ट्रीटमेंट को करने से बालों का झड़ना बंद होगा और नये बाल भी आने लगेंगे।

बाल उगाने का घरलू उपाय है कलौंजी

गंजेपन का घरेलू इलाज में कलौंजी को पीस कर पानी में मिलाकर इस पानी से सिर धोये। कुछ दिन कलौंजी मिले पानी से सर धोने पर बालों का झड़ना बंद होता है और धीरे धीरे नये बाल आने लगते है।

घने बाल उगाने का तेल – Baal ugane ka tel hindi

आरंडी का तेल है गंजेपन का घरेलू इलाज – Castor Oil for baldness in hindi

अगर आप बल उगने के तेल के बारे में सोच रहे है तो आरंडी का तेल जिसे इंग्लिश में Castor Oil कहते है। का यूज़ कर सकते है

तेज़ी से नए बाल उगाने और बाल गिरना बंद करने के लिए ये तेल काफी प्रभावी है। ये आयल फैटी एसिड का उच्च स्त्रोत है उसके साथ विटामिन इ, प्रोटीन और कई बालो के लिए फायदेमंद मिनरल भी इसमें होते है

कैस्टर आयल थोड़ा गाढ़ा होता है इसलिए इसे सिर पर लगाने से पहले इसमें थोड़ा नारियल का तेल भी मिला सकते है। सिर धोने के बाद बाल पूरी तरह सुखाकर ही ये तेल लगाए। बाल बाल पूरी तरह सुख जाने पर बालो की जड़ो तक पूरी खोपड़ी में अरंडी के तेल से हलके हाथो से मालिश करे और फिर कुछ घंटो के लिए ऐसे ही लगा छोड़ दे। अगर आप रात को तेल लगाते है तो अगली सुबह को ही सिर धोये। हफ्ते में 3-4 बार ऐसा करे।

गंजेपन का घरेलू इलाज के अन्य घरेलू उपाय – Other home remedies for hair growth in hindi 

अगर आपके बाल झड़ने की शुरुआत है तो आप कुछ घरेलू और प्राकृतिक उपायों का बालों के झड़ने से रोकने में इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • एलो वैरा जेल का प्रयोग करें, जो आपके सर का पी एच (PH) स्तर बढ़ा कर स्वस्थ्य बालों के बढ़ने में सहायाक सिद्ध होता है। बालों में हल्के से एलो वैरा जेल लगाएँ और एक घंटे के लिए छोड़ दें। बालों को धो लें और इस प्रक्रिया को हफ़्ते में दो या तीन बार दोहराएँ।
  • गुड़हर या जपाकुसुम फूल भी बालों के बढ़ने में सहायता करता है। ये रूसी या ख़ुशक़ि को ख़त्म कर देता है और बालों को घना करता है। नारियल के तेल में गुड़हल मिला लें और जलने तक पकाएँ और छानें। इसे रात में लगा के छोड़ें। सुबह बालों को धो लें और इसे हफ़्ते में कई बार दोहराएँ।
  • कुछ और उपाय जैसे चुकंदर, अलसी के बीज और नारियल का दूध का भी प्रयोग कर सकते हैं।

ध्यान रहे कि इन विधियों का वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है और हो सकता है कि बालों के झड़ने को कम करने में ये आपकी कोई सहायता न कर पाएँ। ऐसे में शक होने पर हमेशा अपने चिकित्सक की सलाह लें।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration