अलग-अलग समय योनि से स्राव होने का क्या है मतलब – Different Condition of Vaginal Discharge in hindi




अलग-अलग समय योनि से स्राव होने का क्या है मतलब - Different Condition of Vaginal Discharge in hindi
Written by Daivansh

Different condition of Vaginal Discharge in hindi महिलाओं की योनि से स्राव (Vaginal Discharge) होना एक आम बात है। माना जाता है कि महिलाओं के शरीर में योनि एक ऐसा अंग है जिसकी सफाई स्वतः होती है। इसमें प्राकृतिक रुप से गीलापन या चिकनाहट (lubrication) पैदा होती है और स्राव भी इसी प्रकार से होता है। लेकिन अक्सर देखा गया है कि योनि से होने वाला स्राव कई बीमारियों का भी संकेत होता है। वैसे तो स्राव हमेशा होता रहता है लेकिन मासिक धर्म के पहले या रजोनिवृत्ति (menopause) के दौरान स्राव असामान्य हो जाता है। इसके अलावा भी संक्रमण या अन्य समस्याएं होने पर स्राव में परिवर्तन देखा जा सकता है। अगर आप यह नहीं समझ पा रही हैं कि आपकी योनि से होने वाला स्राव किस तरह का है तो इस आर्टिकल में हम आपको योनि से स्राव होने का मतलब बताने जा रहे हैं।

  1. अंडोत्सर्ग होने पर होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge during ovulation in Hindi
  2. पीरियड्स से पहले योनि स्राव – White Discharge Before Period In Hindi
  3. मासिक धर्म चक्र के दौरान योनि स्राव – Vaginal discharge during the menstrual cycle in Hindi
  4. प्रेगनेंसी के दौरान होता है योनि स्राव  – Vaginal Discharge during pregnancy in Hindi
  5. व्हाइट डिस्चार्ज और गर्भावस्था – White discharge and pregnancy in Hindi
  6. प्रसव या लेबर के दौरान होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge for labor in Hindi
  7. संक्रमण के कारण भी होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge for infection in Hindi
  8. एसटीडी होने पर होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge for STD  in Hindi
  9. यौन उत्तेजना होने पर होता है योनि स्राव – Yon uttejna ke karan hota hai yoni strav in Hindi
  10. निर्जलीकरण के कारण होता है योनि स्राव – Dehydration cause Vaginal Discharge in Hindi
  11. दुर्लभ कैंसर के कारण होता है योनि से स्राव – Rare cancer cause Vaginal Discharge in Hindi
  12. मेनोपॉज के कारण होता है योनि से स्राव – Menopause ke karan hota hai yoni strav in Hindi
  13. कब योनि से स्राव होना होता है सामान्य – Kab Vaginal Discharge normal hota hai in Hindi

अंडोत्सर्ग होने पर होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge during ovulation in Hindi

योनि स्राव आपके पूरे मासिक चक्र में बदलता रहता है। इस दौरान आप योनि से होने वाले स्राव की बनावट, रंग और मात्रा और यहां तक कि गंध (smell) में भी अंतर देख सकती हैं। ओव्यूलेशन के दौरान आप योनि से होने वाले स्राव में इन बड़े परिवर्तनों को देख सकती हैं। अंडोत्सर्ग के दौरान जब अंडे स्पर्म को अपनी ओर खिंचने की तैयारी में होते हैं तो इस दौरान योनि से पतला (thin) स्राव होता है और अंडे की सफेदी की तरह इसमें खिंचाव रहता है। अगर आप प्रेगनेंट होना चाहती हैं तो जब योनि से इस तरह का स्राव दिखायी दे तभी आपको सेक्स करना चाहिए क्योंकि योनि से स्राव ओव्यूलेशन के कारण भी होता है।

(और पढ़ें – योनि स्राव, अच्छा है या बुरा? अलग रंग के योनि स्राव का मतलब)

पीरियड्स से पहले योनि स्राव – White Discharge Before Period In Hindi

सामान्य योनि स्राव को ल्यूकोरिया (leukorrhea) कहा जाता है। इसमें योनि में कोशिकाओं से तरल पदार्थ और बैक्टीरिया शामिल होते हैं। ज्यादातर महिलाएं हर दिन सिर्फ एक चम्मच, या 4 मिलीलीटर सफेद या साफ योनि स्राव या योनि निर्वहन के तहत पैदा करती हैं।

  • पीरियड्स से पहले योनि डिस्चार्ज सफेद हो जाता है, प्रोजेस्टेरोन की बढ़ती उपस्थिति के कारण, मासिक धर्म चक्र और गर्भावस्था दोनों में शामिल एक हार्मोन।
  • चक्र के अन्य चरणों में, जब शरीर में एस्ट्रोजेन का स्तर अधिक होता है, तो योनि स्राव स्पष्ट और पानी जैसा हो जाता है।
  • डिस्चार्ज चिकनाई और बैक्टीरिया को योनि से हटाने में मदद करता है। यह महिलाओं के लिए अपने मासिक धर्म चक्र को ट्रैक करने का एक सुविधाजनक तरीका भी हो सकता है।
  • जन्म नियंत्रण की गोली जो अवधि से पहले सफेद निर्वहन का कारण हो सकती है, जन्म नियंत्रण की गोली का उपयोग करने से सफेद योनि स्राव में वृद्धि हो सकती है।

(और पढ़ें – आखिर पीरियड्स से पहले लड़कियों को क्यों आता है सफेद पानी, जानें इसके कारण, लक्षण और उपचार)

मासिक धर्म चक्र के दौरान योनि स्राव – Vaginal discharge during the menstrual cycle in Hindi

योनि स्राव पूरे मासिक धर्म चक्र में बदलता रहता है। एक महिला आमतौर पर अपने मासिक धर्म चक्र के प्रत्येक चरण में अंतर देख सकती है, जिसमें शामिल हैं:

ओव्यूलेशन होने पर (white discharge At ovulation in Hindi): डिस्चार्ज आमतौर पर स्पष्ट, फैला हुआ और पानी से भरा होता है। एक पतली स्थिरता शुक्राणु को अंडे तक की यात्रा करने में मदद करती है। ओव्यूलेशन से पहले, आमतौर पर अधिक निर्वहन होता है, संभवतः सामान्य मात्रा से 30 गुना तक अधिक।

ओव्यूलेशन के बाद (white discharge after ovulation in Hindi): प्रोजेस्टेरोन के उच्च स्तर के कारण निर्वहन सफेद दिखाई देते हैं। इस प्रकार का निर्वहन 14 दिनों तक रह सकता है। यह मोटा और चिपचिपा हो सकता है, लेकिन ओव्यूलेशन के दौरान वहाँ से कम होगा।

पीरियड्स के बाद योनि स्राव  (white discharge after period in Hindi): कुछ भूरे रंग का निर्वहन (brown discharge) हो सकता है, जो योनि से निकलने वाले पुराने रक्त से बना होता है। इसके बाद, 3 से 4 दिन बिना डिस्चार्ज के गुजर सकते हैं।

(और पढ़ें – ओव्यूलेशन (अंडोत्सर्ग) क्या है, साइकिल, कब होता है, कितने दिन तक रहता है और लक्षण)

प्रेगनेंसी के दौरान होता है योनि स्राव  – Vaginal Discharge during pregnancy in Hindi

योनि स्राव हार्मोनल उतार चढ़ाव (hormonal fluctuations) से बहुत करीब से जुड़ा हुआ है, इसलिए यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि आपके नौ महीने के गर्भावस्था  के दौरान आपकी योनि से हार्मोन्स के कारण विभिन्न प्रकार का योनि स्राव होता है। कई गर्भवती महिलाओं को योनि स्राव बहुत तेज होता है जो सफेद और पीले रंग का होता है। कभी कभी महिला को यह भी नहीं पता चल पाता है कि वह गर्भवती (pregnant) है या नहीं। वास्तव में अगर आपकी माहवारी रुकी हुई है तो आप अपने योनि स्राव से भी पहचान सकती हैं कि आप गर्भवती हैं।

(और पढ़ें – जानें प्रेगनेंसी में योनि से सफेद स्राव होना सामान्य है या नहीं)

व्हाइट डिस्चार्ज और गर्भावस्था – White discharge and pregnancy in Hindi

कुछ मामलों में, एक गर्भवती महिला को अपनी अवधि समाप्त होने से ठीक पहले डिस्चार्ज में वृद्धि का अनुभव होगा। यह गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक हो सकता है।

इस तरह के डिस्चार्ज को सामान्य डिस्चार्ज से अलग करना हमेशा आसान नहीं होता है, लेकिन यह बनावट में मोटा हो सकता है।

(और पढ़ें – वाइट डिस्चार्ज क्या है इसका कारण और समाधान)

प्रसव या लेबर के दौरान होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge for labor in Hindi

अगर आप गर्भवती हैं और आपकी योनि से श्लेष्म तेजी से स्रावित हो रहा है तो इसका अर्थ है कि आप जल्दी ही बच्चे को जन्म देने वाली हैं। डिलीवरी होने से कुछ दिन पहले गर्भाशय ग्रीवा (cervix) फैलकर चौड़ा हो जाता है। जिसके कारण योनि से श्लेष्म का स्राव बहुत तेजी से होने लगता है। यह इस बात का संकेत है कि आपको प्रसव (labour) शुरू होने वाला है। आमतौर पर यह लेबर पेन का शुरूआती चरण होता है और इसके कुछ दिनों या कुछ हफ्ते बाद ही बच्चे का जन्म होता है। अगर इस दौरान आपकी योनि से बहुत अधिक मात्रा में स्राव हो रहा हो तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

संक्रमण के कारण भी होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge for infection in Hindi

ज्यादातर लड़कियों को शुरूआत से ही बताया जाता है कि योनि में खुजली (Itching) और जलन (burning) होना यीस्ट इंफेक्शन का लक्षण होता है। लेकिन कम ही लड़कियां और महिलाएं जानती हैं कि योनि से स्राव होना भी यीस्ट इंफेक्शन का ही लक्षण है। इसके अलावा बैक्टीरियल वेजिनोसिस भी एक प्रकार का बैक्टीरियल इंफेक्शन है जिसके कारण योनि से स्राव होता है। संक्रमण होने पर योनि से सफेद एवं भूरे रंग का स्राव (white brown discharge) होता है और मछली की तरह गंध आती है। अगर योनि स्राव के साथ आपको योनि में खुजली, जलन (irritation) और दर्द महसूस होता हो तो यह जननांगों में गंभीर संक्रमण का संकेत है और आपको डॉक्टर के पास जाकर जांच करानी चाहिए।

(और पढ़ें – योनि में खुजली के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय)

एसटीडी होने पर होता है योनि स्राव – Vaginal Discharge for STD  in Hindi

गोनोरिया और क्लैमिडिया ये दो यौन संचारित रोग (STD) हैं जो इन दिनों महामारी की तरह हो रहे हैं। इसके कारण योनि से स्राव होता है और योनि स्राव के रंग, मात्रा या गंध में बदलाव दिखायी देता है। एसटीडी के कारण योनि से स्राव होना आम बात है इसलिए अगर आपकी योनि से चिपचिपा द्रव या पदार्थ निकल रहा हो तो यह एसटीडी के कारण निकल सकता है। इसके अलावा ट्राइकोमोनिएसिस होने पर योनि से हरा और पीला डिस्चार्ज होता है। ऐसा होने पर आपको डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

(और पढ़ें – सबसे सामान्य योन संचारित रोग की जानकारी)

यौन उत्तेजना होने पर होता है योनि स्राव – Yon uttejna ke karan hota hai yoni strav in Hindi

जब कोई पुरुष किसी महिला के साथ फोरप्ले करता है तो महिला की योनि बहुत तेजी से गीली (wet) होती है और इसमें से द्रव स्रावित होने लगता है। इसका अर्थ यह है कि अगर आपकी योनि से स्राव हो रहा है तो आप उत्तेजित (stimulate)  हैं और आपको सेक्स करने का मन हो रहा है। योनि स्राव एक ल्यूब्रिकेंट का कार्य करता है और जब महिला चरमोत्कर्ष (climax) पर होती है तो उनकी योनि से पतला और पारदर्शी द्रव निकलता है। योनि से जितना अधिक स्राव होता है आपको सेक्स करने में उतना ही अधिक मजा आता है।

निर्जलीकरण के कारण होता है योनि स्राव – Dehydration cause Vaginal Discharge in Hindi

जिस तरह से शरीर में पानी की कमी होने पर आपके पेशाब का रंग गहरा पीला (darker yellow) हो जाता है उसी तरह से आपकी योनि से पीले रंग का स्राव भी होता है। इस तरह का स्राव इस बात का संकेत है कि आपको निर्जलीकरण हो गया है। इस स्थिति से निपटने के लिए आपको अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए और अपने अंडरवियर में टॉयलेट पेपर रखकर योनि से हो रहे स्राव के रंग को देखना चाहिए।

(और पढ़ें – पानी की कमी (निर्जलीकरण) क्या है, लक्षण, कारण और इलाज)

दुर्लभ कैंसर के कारण होता है योनि से स्राव – Rare cancer cause Vaginal Discharge in Hindi

अधिकांश कैंसर यहां तक कि महिला प्रजनन प्रणाली (reproductive system) का भी योनि स्राव पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। लेकिन फैलोपियन ट्यूब कैंसर का एक दुर्लभ रूप है जिसमें योनि से भारी मात्रा में पानी का स्राव होता है। इससे यह संभावना जतायी जा सकती है कि आपको इस प्रकार का कैंसर है। लेकिन जब आपको योनि स्राव की मात्रा या रंग में कोई अंतर दिखायी दे तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाकर जांच (test) करानी चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपको कैंसर है या नहीं।

मेनोपॉज के कारण होता है योनि से स्राव – Menopause ke karan hota hai yoni strav in Hindi

रजोनिवृत्ति होने से पहले और होने के बाद शरीर में कई तरह के बड़े हार्मोनल उतार चढ़ाव (hormonal fluctuation) होते हैं। जिसके कारण योनि से स्राव होता है। आमतौर पर यह मेनोपॉज के कारण ही होता है और लगातार बदलता भी रहता है। सामान्यतौर पर योनि से सूखा (dry) और कम मात्रा में स्राव होता है जो मेनोपॉज के दौरान संक्रमण का भी संकेत हो सकता है। इससे आपके स्वास्थ्य को कोई खतरा न हो इसलिए आपको स्त्री रोग विशेषज्ञ (gynaecologist) को दिखाना चाहिए।

(और पढ़ें – रजोनिवृत्ति के कारण, लक्षण और दूर करने के उपाय)

कब योनि से स्राव होना होता है सामान्य – Kab Vaginal Discharge normal hota hai in Hindi

ज्यादातर महिलाओं को नहीं पता है कि सामान्य योनि स्राव कैसा दिखता है और वे अनावश्यक रुप से चिंतित हो जाती हैं। आमतौर पर सामान्य डिस्चार्ज हर महिला को अलग अलग होता है। लेकिन सामान्य तौर पर यह पारदर्शी (crystal) और साफ होता है और मासिक चक्र के बीच में होता है और जैसे जैसे आपके पीरियड का दिन नजदीक आता है यह सफेद होने लगता है। लेकिन यह ध्यान देना महत्वपूर्ण है कि यह आपके चक्र के अनुसार कैसे बदलता है ताकि आप समझ सकें कि आपके और आपके शरीर के लिए क्या सामान्य है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration