ज्यादा सेक्‍स करने से योनी में ढीलापन बढ़ता है? जाने क्या है अन्दर की बात – Does too much sex cause vaginal loosening in hindi?




ज्यादा सेक्‍स करने से योनी में ढीलापन बढ़ता है? जाने क्या है अन्दर की बात - Does too much sex cause vaginal loosening in hindi?
Written by Daivansh

हर लड़की के मन में सेक्स करने के बाद ख्याल आता है की कही उसकी योनी में ढीलापन तो नहीं आ जायेगा या योनी में ढीलापन बढ़ तो नहीं जायेगा और उनके मन में यह दुबिधा बनी रहती है की सेक्‍स करने के बाद या वर्जिनिटी खोने से योनी (वजाइना) की स्किन ढ़ीली पड़ जाती है। कई महिलाएं सोचती है कि ज्‍यादा सेक्‍स से योनी में ढीलापन पर फर्क पड़ता है। इससे पहले की आप ये सोचे कि सेक्‍स करने से योनी की स्किन कसावट खोने लगती है तो इस भ्रम को अपने दिमाग से निकाल दे। योनी की त्‍वचा ढीली पड़ने के पीछे एक मात्र कारण संभोग करना ही नहीं है। शिशु के जन्म के बाद, उम्र बढ़ने या एक्सरसाइज न करने आदि कुछ कारणों से योनी में ढीलापन आ जाता है। हालांकि इसे दूर किया जा सकता है और योनी को फिर से टाइट बनाया जा सकता है।

ऐसे कई कारण है जिनके वजह से योनी की स्किन फैल जाती है। आइए जानते है ऐेसे कारणों के बारे में और कुछ एक्‍सरसाइज के बारे में जिनसे आप योनी की कसावट लौटा सकती हैं। और फिर से बर्जिन होने का एहसास पा सकती है

सेक्स करने वजह से नहीं आता योनी में ढीलापन

योनी की त्‍वचा बहुत ही लचीली होती है एक रबड़ बैंड या इलास्टिक की तरह, जो सेक्स के समय फैलकर फिर से अपने पहले के रूप में आ जाता है। इसलिए जब आप पहली बार सेक्स करते हैं तब उसके साइज में बदलाव आता है। यहां तक कि कई बार हाइमन ब्रेक होता है जिसके कारण हल्का ब्लीडिंग होता है और बाद में योनी का ओपनिंग भी थोड़ा-सा बड़ा जाता है। याद रखें कि योनी की दिवार हमेशा से ही लचीला होती है जो समय के अनुसार फैलती है और सिकुड़ जाती है।

(और पढ़े: योनि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी)

एक बार हाइमन फट जाने के बाद योनी संकुचित हो जाता है और सेक्स करने के बाद रिलैक्स हो जाता है। यहां तक कि अगर कोई कई पार्टनर के साथ सेक्स एन्जॉय करते हैं तो तब भी योनी का वॉल फैल जाता है। लेकिन बाद में वह अपने साइज में फिर से लौट आता है। अगर वैजाइना का स्किन हमेशा के लिए स्ट्रेच्ड हो जाय तो सेक्स करना मुश्किल हो जाएगा।

(और पढ़े: योनी में खुजली, जलन और इन्फेक्शन के कारण और घरेलू इलाज)

आइए जानते उन तरीकों को जिनसे योनी में कसावट लौटाई जा सकती है – Vaginal tightening in hindi

1.कीगल एक्‍सरसाइज – Kegel exercise in hindi

योनी की मांसपेशियों को स्‍वस्‍थ बनाएं रखने के लिए पैल्विक फ्लोर एक्‍सरसाइज करनी चाहिए। कीगल एक्‍सरसाइज, मूत्रमार्ग की मांसपेशियों के कमजोर होने वाली असंयमिता को रोकेने में भी मदद करती है। शुरुआती दिनों में 10 बार करें और फिर धीरे धीरे 50 या 100 से अधिक बार करने का अभ्‍यास करें।  कीगल एक्सरसाइज करने से मांसपेशियों को फिर से मजबूत बनाया जा सकता है। और कीगल एक्सरसाइज को किसी भी उम्र की महिलाएं कर सकती हैं।

(और पढ़े: पुरुषों के लिए Kegel Exercise अब जल्दी स्‍खलन की समस्‍या को भूल जाओ)

2. स्‍कवैट से करें योनी टाइट – Squad in hindi

स्‍क्‍वेट करने से भी तीव्र और प्राकृतिक रुप से योनि में कसाव महसूस करेंगी। अधिकांश लोग स्‍कवैट अनुचित ढ़ग से करते हैं। सही तरीके से स्‍क्‍वैट करने के लिए, अपने पैरो को अपने हिप की चौड़ाई के बाहर तक फैला लें। अपने पैर की उंगलियों को 30 डिग्री के कोण से बाहर रखें। सबसे पहले अपने कूल्‍हों को इस प्रकार झुकाएं कि देखने में लगे कि आप बेंच पर बैठना चाहते हैं। अपनी एड़ी के जोर लगाकर वापस सामान्‍य स्थिति में आ जाइए। अगर स्‍कवैट करने में समस्‍या आ रही है तो किसी ट्रेनर की सहायता लीजिए, क्‍योंकि गलत तरीके से करने से यह खतरनाक व्‍यायाम साबित हो सकता है।

3. योगा करें- Do yoga in hindi

योनी में ढीलापन दूर करने का एक सबसे अच्छा तरीका व्यायाम करना और योग करना हैं। नियमित रुप से योनि की मांसपेशियों टोन करने के लिए योग करना काफी अच्‍छा होता है। योग करने से पैल्विक फ्लोर की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। जैसे सेतुबंधासन और बालासन ये योग आसान पैल्विक मांसपेशियों को कसने के साथ योनी को स्‍वस्‍थ बनाए रखता है। निरंतर व्यायाम और योग करने से गुप्तांगों का ढ़ीलापन दूर किया जा सकता है।

(और पढ़े: योनि से जुड़े रोग और उपचार)

4. उत्तेजना भी हैं जरूरी कारण – Excitement is also important reason in hindi

डॉक्टर्स का मानना है कि अगर शारीरिक संबंध बनाते समय महिलाओं के गुप्तांग में ड्राइनेस हो तो इससे भी साइज में फर्क पड़ता हैं इसलिये शारीरिक संबंध बनाने के लिये पहले फोरप्ले जरूरी होता हैं। उत्तेजना के बाद संबंध बनाने से गुप्तांग के आकार पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता।

(और पढ़े: मर्दाना ताकत बढ़ाने का अचूक नुस्खा)

5. संबंध बनाते समय रखें ये बात ध्यान

शारीरिक संबंध बनाते समय भी कुछ बातों का ध्यान रखने से योनी में ढीलापन से बचा जा सकता है। दरअसल चरम सीमा पर पहुंचते ही पर गुप्तांगों में मौजूद मांसपेशियों का संकुचन होता है। महिलाएं जितना चरम सीमा पर पहुंचती हैं, मासपेशियां उतनी ही टोन होती हैं, जिससे उनका आकार मजबूत रहता है। और योनी में ढीलापन नहीं आता।

(और पढ़े: लंबी उम्र जीना है? तो करें तूफानी सेक्स)

योनी में ढीलापन के कारण – Causes of loose or Flappy Vagina in hindi

1. बच्चे को जन्म देने के बाद पड़ता है ये फर्क

महिला के बच्चे को जन्म देने के बाद उसके गुप्तांग की मांसपेशियां ढीली पड़ जाती हैं।, इस समय महिला 6 से 10 पाउंड के एक बच्‍चें को जन्‍म देती है, जो कि आपके योनी के सहारे इस दुनिया में आता है। लेकिन अच्‍छी बात यह होती है डिलीवरी के कुछ समय बाद योनी में फिर से कसावट आ जाती है। खासकर अगर डिलीवरी कम उम्र में हुई है। जिसको दोबारा आकार में आने में  6 महिनें का समय लग सकता है, जिसमें व्यायाम की भी जरूरत पड़ती है।

(और पढ़े: शिशु के जन्म के कितने दिनों बाद हो आप हो सकती हैं गर्भवती)

2. बढ़ती उम्र है योनी में ढीलापन का कारण

बढ़ती उम्र के साथ भी योनी में फर्क पड़ता रहता है, शोधकर्ताओं का मानना है कि उम्र बढ़ने के साथ महिलाओं के गुप्तांगों की त्वचा पतली पड़ने लग जाती हैं और उनमें लचीलापन आ जाता है। उम्र के बढ़ने से योनी की स्किन और मांसपेशियों के आकार में बदलाव आता है। मेनोपॉज ओर उम्र की वजह से योनी अपनी कसावट खोने लगता है। जिसकी वजह से वजाइना में सूखापन और एस्‍ट्रोजन के स्‍तर में भी कमी की समस्‍या होती है।

(और पढ़े: योनि से सफ़ेद पानी आना (श्वेत प्रदर, ल्यूकोरिया) लक्षण, कारण और घरेलू उपचार)

डॉक्‍टर से जरुर मिले

अगर आपको योनी की स्किन पर किसी भी प्रकार सूजन या कट नजर आता है तो ये जान लें कि योनी का स्किन फैल गया है। इसके बारे में घरेलू नुस्ख़े आजमाने के जगह पर तुरन्त गायनाकॉलोजिस्ट से मिलना बेहतर होता है

आपको बता दें की फिर से वर्जिन बनने की कोई दवाई नहीं होती इसलिए कोई भी दवाई ना लें, अगर कोई प्रोड्क्ट ऐसा दावा भी करे तो भी उसपर विशवास मत कीजिए इससे आपको उल्टा कोई साइड इफेक्ट हो सकता है।

Leave a Comment

1 Comment

Subscribe for daily wellness inspiration