जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाएं अपना रहीं हैं मेंस्ट्रुअल कप की ये ट्रिक - Menstrual Cup Help You Get Pregnant Faster in Hindi - Healthunbox
गर्भावस्था

जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाएं अपना रहीं हैं मेंस्ट्रुअल कप की ये ट्रिक – Menstrual Cup Help You Get Pregnant Faster in Hindi

जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाएं अपना रहीं हैं मेंस्ट्रुअल कप की ये ट्रिक - Menstrual Cup Help You Get Pregnant Faster in Hindi

माँ बनने का अनुभव किसी भी महिला के लिए सबसे अनोखा होता है। लेकिन कई महिलाओं के लिए गर्भधारण करना आसान नहीं होता है। गर्भावस्था की खुशी पाने के लिए उन्हें बहुत संघर्ष करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में महिलाएं विभिन्न उपाय अपनाती हैं ताकि वे गर्भधारण कर सकें।

आपने यह भी सुना होगा कि प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाएं शारीरिक संबंध बनाने के तुरंत बाद अपने पैरों को हवा में उपर उठा लेती हैं या अनानास खाती हैं, ऐसे कई टिप्स और ट्रिक्स हैं जो वे अपनी गर्भावस्था की संभावनाओं को बेहतर बनाने के लिए करती हैं। कई महिलाओं के अनुसार, मासिक धर्म कप गर्भावस्था की संभावना को बढ़ाने में मददगार साबित हो रहा है। जानिए प्रेग्नेंट होने के लिए मासिक धर्म कप का उपयोग कब और कैसे करें और यह कैसे काम करता है।

मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल कब किया जाता है

मेंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल कब किया जाता है

मासिक धर्म कप का उपयोग अब तक आपने अपने पीरियड्स के दौरान ही किया होगा। महिलाएं टैम्पोन या सैनिटरी पैड के स्थान पर मेंस्ट्रुअल कप का उपयोग करती हैं। लेकिन अब यह उन महिलाओं के बीच लोकप्रिय हो रहा है जो गर्भधारण यानि कंसीव करना चाहती हैं।

गर्भाधान कैसे होता है

प्रेगनेंट होने के लिए, कई चरण होते हैं:

ओव्यूलेशन – मासिक धर्म चक्र के दौरान, हार्मोन के कारण अंडाशय के अंदर अंडे परिपक्व होते है और अंडाशय से एक अंडा रिलीज करता है। इसे ओव्यूलेशन के रूप में जाना जाता है। एक बार अंडा जारी होने के बाद, यह फैलोपियन ट्यूब में चला जाता है। यदि अंडे को 24 घंटों के भीतर निषेचित नहीं किया जाता है, तो यह विघटित होना शुरू हो जाता है और मासिक धर्म दो सप्ताह बाद शुरू होता है।

निषेचन – जब एक शुक्राणु अंडे के साथ जुड़ जाता है, तो परिपक्व अंडा निषेचित होता है। यह आमतौर पर तब होता है जब असुरक्षित संभोग होता है और पुरुष ने योनि के अंदर वीर्य स्खलन किया होता है। वीर्य में शुक्राणु होते हैं जो योनि से गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय के माध्यम से और फैलोपियन ट्यूब में तक जाते हैं।

इम्प्लांटेशन – अंडे आमतौर जब फैलोपियन ट्यूब में होते है तब शुक्राणु द्वारा निषेचित होते हैं। एक बार निषेचित हो जाने पर, अंडा गर्भाशय में पहुंच जाता है, जहां वह यह गर्भाशय की परत से जुड़ जाता है और गर्भावस्था शुरू होती है।

(और पढ़ें – मेंस्ट्रुअल साइकिल कैसे काम करती है)

मेंस्ट्रुअल कप से कैसे मिलती है प्रेगनेंसी में मदद?

मेंस्ट्रुअल कप से कैसे मिलती है प्रेगनेंसी में मदद?

मासिक धर्म कप के साथ कंसीव करने में मदद कैसे होती है? मासिक धर्म कप सिलिकॉन या लेटेक्स से बने होते हैं जिन्हें आपकी योनि में इस तरह से सेट किया जाता है कि उसमें पीरियड का खून जमा हो जाता है। जब गर्भावस्था चाहने वाली महिलाएं इसका उपयोग करती हैं, तो शुक्राणु के पास अपने लक्ष्य तक पहुंचने का एक ही रास्ता खाली रहता है। मेंस्ट्रुअल कप वेजाइना में लगे रहने के कारण, शुक्राणु सीधे ऊपर की ओर फैलोपियन ट्यूब में जाता है जहां यह अंडे से मिलता है और इस उपाय से प्रेगनेंट होने की संभावना बढ़ जाती है।

कब और कैसे करना है मेंस्ट्रुअल कप का प्रयोग

प्रेगनेंट होने की संभावना बढ़ाने के लिए मेंस्ट्रुअल कप का उपयोग कब और कैसे करें? अगर आप अपने परिवार को बढ़ाने के बारे में सोच रहीं हैं लेकिन कंसीव करने में सफलता नहीं मिल रही है, तो जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए यह ट्रिक आपकी मदद कर सकती है। इस उपाय के तहत, पार्टनर का स्खलन, यानी इजैकुलेट के तुरंत बाद, मासिक धर्म कप लगा लें।

आप दूसरा उपाय भी अपना सकतीं हैं। इसके लिए, अपने साथी से पुल-आउट विधि के लिए कहें और शुक्राणु को मासिक धर्म के कप में इजैकुलेट करके एकत्रित कर लें, इसके तुरंत बाद आप मासिक धर्म कप को उसके स्थान पर लगा लें। इस उपाय से, शुक्राणु को अपने नियत स्थान पर तैरकर जाना आसान हो जाएगा। यदि आप मेंस्ट्रुअल कप लगाने का तरीका नहीं जानतें हैं तो हमारे इस लेखे में जाने क्या है मेंस्ट्रुअल कप लगाने का सही तरीका

मेंस्ट्रुअल कप लगाने के बाद इस बात का ध्यान रखें

मेंस्ट्रुअल कप के उपयोग से संबंधित सभी दिशानिर्देशों का पालन करें। मासिक धर्म कप को 12 घंटे से अधिक लगाकर न रखें। यदि मेंस्ट्रुअल कप लगाने के बाद समयसीमा का ध्यान नहीं रखा जाता है, तो योनि का पीएच स्तर बिगड़ सकता है और खमीर संक्रमण (यीस्ट इंफेक्शन) भी हो सकता है।

आपको यह भी जानना चाहिए-

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration