बेकिंग पाउडर और बेकिंग सोडा में अंतर – Difference between baking powder and baking soda in Hindi

बेकिंग पाउडर और बेकिंग सोडा में अंतर - Difference between baking powder and baking soda in Hindi
Written by Anamika

Baking powder vs Baking soda in Hindi बेकिंग सोडा और बेकिंग पाउडर के गुण आमतौर पर कई मामलों में एक समान है। ये दोनों एक प्रकार का रासायनिक किण्वन पैदा करते हैं अर्थात् इन्हें किसी सामग्री (ingredients) में मिलाने पर ये दोनों गैस उत्पन्न करते हैं। इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कि बेकिंग सोडा क्या है what is Baking Soda in Hindi, बेकिंग पाउडर क्या है what is Baking Powder in Hindi, बेकिंग पाउडर एवं बेकिंग सोडा में अंतर difference between baking powder and baking soda  in Hindi, बेकिंग सोडा और बेकिंग पाउडर का इस्तेमाल uses of baking powder and baking soda in hindi, बेकिंग पाउडर और बेकिंग सोडा की गुणवत्ता जाएं check quality of baking powder and baking soda in hindi।

हमें कई तरह की खाद्य सामग्री को तैयार करने में बेकिंग साडो और बेकिंग पाउडर की आवश्यकता पड़ती है। बेकरी के उत्पाद इनके इस्तेमाल के बिना नहीं बनाए जा सकते हैं। आमतौर पर केक, मफिन, बिल्कुट, ब्रेड जैसे कई खाद्य पदार्थ बनाने के लिए इनकी तैयार सामग्री में खमीर का उठना जरूरी होता है, और इसी खमीर को उत्पन्न करने के लिए बेकिंग पावडर की जरूरत पड़ती है।

1. बेकिंग सोडा क्या है – what is Baking Soda in Hindi
2. बेकिंग पाउडर क्या है – what is Baking Powder in Hindi
3. बेकिंग पाउडर एवं बेकिंग सोडा में अंतर – Difference between baking powder and baking soda  in Hindi
4. बेकिंग सोडा और बेकिंग पाउडर का इस्तेमाल – uses of baking powder and baking soda in hindi
5. बेकिंग पाउडर और बेकिंग सोडा की गुणवत्ता जाएं – check quality of baking powder and baking soda in hindi

बेकिंग सोडा क्या है – what is Baking Soda in Hindi

Baking soda शुद्ध सोडियम बाइकार्बोनेट होता है। जब बेकिंग सोडा को अम्लीय और क्षारीय दोनों तरह की सामग्री जैसे दही, चॉकलेट, बटर मिल्क, शहद, खट्टे जूस और विनेगर आदि के साथ मिलाया जाता है तो इनमें एक रासायनिक क्रिया (chemical reaction) होती है जिससे कि इन सामग्रियों में कार्बन डाई ऑक्साइड के बुलबुले उठने लगते हैं और ये ओवन के तापमान पर तेजी से फैलते हैं और इसकी वजह से पकायी जा रही सामग्री फैलती है या फिर ऊपर उठती है। बेकिंग सोडा को किसी भी सामग्री में मिलाने के तुरंत बाद ही इसकी क्रिया शुरू हो जाती है। इसलिए रेसिपी को बनाने में बेकिंग सोडा का इस्तेमाल किया जाता है।

बेकिंग पाउडर क्या है – what is Baking Powder in Hindi

Baking powder भी सोडा के बाइकार्बोनेट से ही बनता है लेकिन यह क्रीम या टर्टर एसिड मिश्रित एक पावडर होता है। बेकिंग पाउडर को क्रिया के लिए नमी की जरूरत होती है लेकिन इसमें अलग से अम्ल मिलाने की आवश्यकता नहीं होती है। बाजार में मिलने वाले ज्यादातर बेकिंग पाउडर डबल एक्टिंग कहलाते हैं इसका मतलब है कि इसकी प्रतिक्रिया दो भागों में होती है। पहली प्रतिक्रिया तब होती है जब बेकिंग पाउडर घुलने लगता है और जब इसे गर्म करते हैं तो इसकी दूसरी प्रतिक्रिया धीरे-धीरे शुरू होती है।

दूसरे शब्दों में इसलिए beking powder में अलग से अम्लीय (acidic) सामग्री मिलाने की जरूरत नहीं होती है। हालांकि इसमें थोड़ा पानी मिलाने की आवश्यकता पड़ती है क्यों कि यह पानी मिलाने के बाद ही सक्रिय होता है और जब इसे गर्म किया जाता है तब यह अपना काम अच्छे तरीके से करता है। लेकिन आपको बेकिंग पाउडर के इस्तेमाल से पहले यह बात ध्यान रखनी चाहिए कि किसी सामग्री में अधिक मात्रा में Baking powde मिलाने से उस सामग्री का स्वाद अधिक कड़वा हो जाता है इसलिए सीमित मात्रा में ही Baking powde का प्रयोग करना चाहिए। कुछ ऐसी भी रेसिपी हैं जिनमें Baking soda और Baking powde दोनों मिलाया जाता है। इसे मिलाने से पहले आपको पूरी जानकारी होनी चाहिए कि किसमें क्या मिलाएं।

बेकिंग पाउडर एवं बेकिंग सोडा में अंतर – Difference between baking powder and baking soda  in Hindi

सभी प्रकार के व्यंजनों में मौजूद अम्लता का स्तर अलग-अलग होता है और  इसी स्तर के हिसाब से आपको उसका अलग और संतुलित स्वाद पाने के बेकिंग पाउडर एवं बेकिंग सोडा दोनों के इस्तेमाल की जरूरत पड़ती है। जब बेकिंग सोडा एसिड के साथ क्रिया करता है तो इसे बेअसर (neutralize)कर देता है और सामग्री को अधिक क्षारीय बना देता है। इससे फिर आपको वह खाद्य सामग्री खाने में खट्टी लगती है। अगर आप इसकी क्रिया के बाद इसमें अलग से बाइकार्बोनेट मिला देते हैं तो इसका स्वाद खराब हो जाता है और इसे खाने में साबुन की तरह स्वाद (soapy taste)आता है। स्वाद को संतुलित रखने के लिए कुछ मामलों में बेकिंग सोडा और Baking powde दोनों को सही मात्रा में मिलाने की जरूरत होती है।

(और पढ़े – अनजाने में खाए जाने वाले 4 सफेद जहर)

बेकिंग सोडा और बेकिंग पाउडर का इस्तेमाल – uses of baking powder and baking soda in hindi

उदाहरण के तौर पर यदि आपको बटर मिल्क बिल्कुट (buttermilk biscuit) बनाना हो तो इसमें कितनी मात्रा में बेकिंग पाउडर मिलाना चाहिए। बटरमिल्क अम्लीय होता है। इसमें अधिक बेकिंग पाउडर मिलाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। लेकिन अगर आप जरा सा बेकिंग पावडर मिलाकर बटरमिल्क बिस्कुट बनाती हैं तो यह अधिक कुरकुरा और स्वादिष्ट बनेगा।

पकाने या सिंकाई से पकाने वाले खाद्य सामग्रियों में Baking soda मिलाने का एक बड़ा कारण यह होता है कि यह उस खाद्य सामग्री को भूरा या सुनहरा रंग प्रदान करने में मदद करता है। इसीलिए बेकिंग सोडा और बेकिंग पावडर को बेकरी के सामग्री में एक साथ मिलाया जाता है ताकि उस सामग्री स्वाद भी बढ़ जाए और वह देखने में भी सुनहरे रंग की दिखे।

(और पढ़े – माइक्रोवेव से होने वाले नुकसान)

बेकिंग पाउडर और बेकिंग सोडा की गुणवत्ता जाएं – check quality of baking powder and baking soda in hindi

-बेकिंग सोडा के गुणवत्ता की जांच करने के लिए दो चम्मच बेकिंग सोडा में दो चम्मच विनेगर मिलाएं। यदि इन दोनों को मिलाने पर बुलबुले उठने लगे तो बेकिंग सोडा की गुणवत्ता अच्छी है।

-बेकिंग पाउडर (beking powder) की जांच के लिए दो चम्मच बेकिंग पाउडर में थोड़ा पानी मिलाएं। इन दोनों को मिलाने पर यदि तेजी से सनसनाहट होने की आवाज या गैस निकले तो Baking powde खराब नहीं हुआ है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration