लोग विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित क्यों होते हैं - Why do people get attracted to the opposite sex in Hindi
सेक्स एजुकेशन

लोग विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित क्यों होते हैं और किस वजह से Opposite Sex को देखकर मचलने लगता है मन!

लोग विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित क्यों होते हैं - Why do people get attracted to the opposite sex in Hindi

क्या आप जानतें हैं लोग विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित क्यों होते हैं? आकर्षण एक नायाब चीज है और विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित होना सामान्य बात है। कभी कभी यह बताना मुश्किल होता है कि एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति में ऐसा क्या दिखता है जो दोनों को एक दूसरे के करीब ले आता है। इसके अलावा वह कौन सी चीज होती है कि आप उस व्यक्ति के बारे में हमेशा सोचते रहते हैं और आप कहीं ना कहीं उसकी तरफ आकर्षित भी होते हैं। एक समय ऐसा आता है जब आपको लगता है कि आप चाहकर भी उसे भूल नहीं पा रहे हैं और ना ही उसके बारे में सोचना बंद कर पा रहे हैं। वास्तव में यह आकर्षण बायोलॉजिकल, और साइकोलॉजिकल फैक्टर की वजह से होता है जिसके कारण दो अपोजिट सेक्स वाले लोग एक दूसरे की ओर अट्रैक्ट होते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि लोग विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित क्यों होते हैं और किस वजह से Opposite Sex को देखकर मचलने लगता है मन।

विषय सूची

हार्मोन्स के कारण विपरीत लिंग के प्रति होता है आकर्षण – Hormones attracted to the opposite sex in Hindi

स्त्री और पुरुष को एक दूसरे के प्रति आकर्षण कई कारणों से होता है और इनमें सबसे बड़ा रोल हार्मोन्स का होता है। डोपामिन एक ऐसा हार्मोन है जो तब रिलीज होता है जब हमें कोई अच्छा लगता है और हम उसके साथ बेहतर महसूस करते हैं और सेक्स करते हैं। इसके अलावा विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण नोरपिनेफ्रिन हार्मोन के कारण भी होता है जो जिसके कारण हम उसकी ओर खिंचते चले जाते हैं। शरीर में जब हैप्पी हार्मोन सेरोटोनिन और ऑक्सीटोसिन हाई लेवल में होता है तब अट्रैक्शन बहुत तेजी से बढ़ता है और सेक्सुअल कॉन्टैक्ट और गले से लगाने का मन करता है। यह हार्मोन महिला और पुरुष दोनों में रिलीज होता है जिसके कारण विपरित लिंग की ओर अट्रैक्शन बढ़ता है।

(और पढ़ें – सेक्स हार्मोन क्या होते है महिला और पुरुष में इनका महत्त्व)

अपोजिट सेक्स के प्रति अट्रैक्शन का कारण फेरोमोन्स केमिकल – Pheromones chemical attracted to the opposite sex in Hindi

हाल ही में हुए एक शोध में पाया गया है कि फेरोमोन्स नामक केमिकल के कारण लोगों में विपरित लिंग के प्रति आकर्षण बढ़ता है। इसके लिए चूहों पर एक शोध किया गया और पाया गया कि मस्तिष्क के हाइपोथैलमस में न्यूरॉन्स का सबसेट होता है जो अपोजिट सेक्स के प्रति अट्रैक्शन और सेक्सुअल बिहेवियर दोनों को बढ़ाता है। फेरोमोन्स रसायन न्यूरॉन्स को सक्रिय करता है दूसरे न्यूरॉन्स को सिग्नल भेजता है जिसके कारण कारण जब स्त्री को पुरुष और पुरुष को स्त्री की ओर आकर्षण होने लगता है।

(और पढ़ें – टेस्टोस्टेरोन हार्मोन क्या है, कमी के लक्षण, कारण, इलाज और बचाव)

गंध के कारण विपरीत लिंग की ओर होता है अट्रैक्शन – Smell attracted to the opposite sex in Hindi

गंध के कारण विपरीत लिंग की ओर होता है अट्रैक्शन - Smell attracted to the opposite sex in Hindi

इसी साल हुई एक स्टडी में पाया गया है कि महिलाओं के शरीर की खास गंध के कारण पुरुष उनकी ओर आकर्षित होते हैं। स्टडी में खुलासा हुआ है कि जब महिलाओं की बॉडी में एस्ट्रोजन का लेवल हाई और प्रोजेस्टेरोन का लेवल कम होता है तब वो सबसे ज्यादा अपील करती हैं और पुरुष उनके पीछे खिचे चले आते हैं। हार्मोन का यह संतुलन महिलाओं में हाई फर्टिलिटी को दर्शाता है। इससे यह स्पष्ट होता है कि जब महिलाएं इस हार्मोनल स्टेज पर होती हैं तो पुरुषों को ज्यादा आकर्षण होता है।

(और पढ़ें – फर्स्ट टाइम सेक्स टिप्स महिला और पुरुष दोनों के लिए)

अपोजिट सेक्स की ओर अट्रैक्शन डाइट से भी होता है – Diet attracted to the opposite sex in Hindi

आप जो खाते हैं उसका भी इस पर प्रभाव पड़ सकता है कि आप कितने आकर्षक हैं और विपरीत लिंग आपकी तरफ आकर्षित होता है। वर्ष 2017 में हुई एक स्टडी में पाया गया है कि जो पुरुष हेल्दी और बैलेंस डाइट लेते हैं उनकी पर्नसनालिटी भी हेल्दी दिखती है और उनकी ओर महिलाएं बहुत तेजी से आकर्षित होती हैं जबकि जो पुरुष ब्रेड और पास्ता जैसे फास्ट और जंक फूड खाते हैं वो बैलेंस डाइट लेने वाले पुरुषों की अपेक्षा कम स्वस्थ होते हैं जिनके कारण उनकी स्मेल भी हेल्दी नहीं होती है।

(और पढ़ें – गर्लफ्रेंड के साथ पहली बार सेक्स कैसे करें)

फर्टिलिटी के कारण होता है विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण – Fertility ke karan viprit ling ke prati aakrshan hota hai in Hindi

अगर आप फर्टाइल हैं तो आपकी तरफ विपरित लिंग के लोग सिर्फ अट्रैक्ट ही नहीं होंगे बल्कि आपके लुक पर भी फर्टिलिटी का प्रभाव पड़ता है। कुछ सालों पहले हुई एक स्टडी में पाया गया है कि महिलाओं की आवाज और चेहरा सबसे ज्यादा अट्रैक्टिव तब होता है जब प्रोजेस्ट्रान का स्तर कम और एस्ट्रोजन का लेवल हाई होता है। यह महिलाओं में फर्टिलिटी को दर्शाता है जिसके कारण विपरित लिंग की तरफ आकर्षण बढ़ता है।

(और पढ़ें – टेस्टोस्टेरोन हार्मोन यानी मर्दानगी बढ़ाना है तो जरूर खाएं ये आहार)

व्यक्ति की आवाज विपरीत लिंग की ओर करती है आकर्षित – Voice of a person attracted to the opposite sex in Hindi

आमतौर पर आवाज के कारण भी विपरित लिंग के प्रति आकर्षण बढ़ता है। एक शोध के अनुसार पुरुष महिलाओं की सांसों से भरी और सिहरती हुई आवाज पसंद करते हैं। जैसे जैसे महिलाओं की उम्र बढ़ती है उनकी आवाज स्लो होती चली जाती है जबकि यंग एज में महिलाओं की आवाज तेज होती है और पुरुषों को आकर्षित करती है। हालांकि महिलाएं ऐसे पुरुषों की ओर आकर्षित होती हैं जिनकी आवाज उनके हट्ठे कट्ठे शरीर के अनुपात में हो। महिलाओं को पुरुषों की भारी लेकिन सॉफ्ट आवाज आकर्षित करती है।

(और पढ़ें – सेक्स से जुड़े रोचक तथ्य: सेक्स से जुड़ी ये 45 बातें, हैरान कर देंगी आपको)

टेस्ट के कारण अपोजिट सेक्स की ओर होता है आकर्षण – Taste ke karan viprit ling ke prati aakrshan hota hai in Hindi

टेस्ट के कारण अपोजिट सेक्स की ओर होता है आकर्षण - Taste ke karan viprit ling ke prati aakrshan hota hai in Hindi

 

लोग जब एक दूसरे को चूमते हैं तो इस दौरान 80 मिलियन बैक्टीरिया ट्रांसफर होते हैं लेकिन फिर भी लोग किस करते हैं। वास्तव में किस करने से ऑक्सीटोसिन रिलीज होता है और विपरीत लिंग के प्रति बायोलॉजिकल अट्रैक्शन बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा किसिंग के दौरान विपरीत लिंग वाले व्यक्ति की स्मेल और टेस्ट का भी पता चलता है जिसके कारण अट्रैक्शन बहुत तेजी से बढ़ता है। एक स्टडी में पाया गया है कि चुंबन ही वह तरीका है जिससे हमें किसी व्यक्ति की महक और टेस्ट के बारे में मालूम चलता है और यह अपोजिट सेक्स के प्रति अट्रैक्शन को बढ़ाने में बहुत हेल्प करता है।

(और पढ़ें – लड़की को किस करने के लिए कैसे राजी करें)

मैच्योरिटी होती है विपरीत लिंग की ओर अट्रैक्शन की वजह – Maturity causes attracted to the opposite sex in Hindi

अपोजिट सेक्स की ओर अट्रैक्शन सिर्फ हार्मोन्स के कारण ही नहीं होता बल्कि  उस व्यक्ति की मैच्योरिटी भी सामने वाले को आकर्षित करती है। अगर आप काफी यंग हैं और डेटिंग के लिए पार्टनर तलाश रहे हैं तो एक्सटर्न चीजें जैसे मैच्योरिटी आपको किसी भी विपरित लिंग वाले व्यक्ति का मुरीद बना सकती है। एक स्टडी में पाया गया है कि ज्यादातर सुंदर दिखने वाले स्त्री पुरुषों का जब बातचीत करने का तरीका या मैच्योरिटी लेवल बेहतर नहीं होता है तब सुंदरता के बावजूद वह जल्दी किसी को अट्रैक्ट नहीं कर पाते हैं। इसलिए अपोजिट सेक्स की ओर अट्रैक्शन का एक बड़ा कारण मैच्योरिटी ही है।

(और पढ़ें – कैसे पता करें कि गर्लफ्रेंड सेक्स के लिए राजी है)

एक्टिव बॉडी लैंग्वेज देखकर अपोजिट सेक्स के प्रति होता है अट्रैक्शन – Active body language people get attracted to the opposite sex in Hindi

एक्टिव बॉडी लैंग्वेज देखकर अपोजिट सेक्स के प्रति होता है अट्रैक्शन - Active body language people get attracted to the opposite sex in Hindi

वर्ष 2016 में वैज्ञानिकों ने स्पीड डेटिंग के दौरान लोगों पर नजर रखी और उनकी बॉडी लैंग्वेज का आकलन किया। शोध से यह निष्कर्ष निकला की एक्टिव बॉडी लैंग्वेज वाले स्त्री और पुरुष विपरीत लिंग की तरफ सबसे ज्यादा आकर्षित होते हैं। मान लीजिए कि आपकी ऑफिस में पूरे साल नए नए सहकर्मी आते होंगे लेकिन एक ऐसा लड़का आता है जिसकी बॉडी लैंग्वेज बहुत एक्टिव और पॉजीटिव रहती है तो जाहिर है कि जब उसके ऑफिस आने का समय होगा तो आप उसे एक बार पलट कर जरुर देखेंगी। यही चीज महिला के साथ भी हो सकती है। इससे यह साबित होता है कि विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण एक्टिव बॉडी लैंग्वेज के कारण भी होता है।

(और पढ़ें – लड़कियों की बॉडी लैंग्वेज को कैसे समझें)

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration