Divya Shilajeet Rasayan Vati in Hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी की जानकारी

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 3.67 out of 5)
Loading...

Divya Shilajeet Rasayan Vati in Hindi दिव्य शिलाजीत रसायन वटी का उपयोग पुरषों में नपुंसकता (स्तंभन दोष) और स्वप्नदोष को दूर करने में किया जाता है। आइये इस वटी के बारे में और अधिक विस्तार से जानते हैं कि यह कहाँ इस्तेमाल होती है, कैसे काम करती है और इसके क्या साइड इफेक्ट्स होते हैं। नीचे के लेख में आप जानेगे Divya Shilajeet Rasayan Vati के लाभ, उपयोग करने के तरीके, खुराक और साइड इफेक्ट्स, नुकसान के बारें में।

1. Divya Shilajeet Rasayan Vati Uses in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी का उपयोग निम्न लक्षणों में किया जाता है
2. Ingredients of Divya Shilajeet Rasayan Vati in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी में इस्तेमाल होने वाली सामग्री
3. How Divya Shilajeet Rasayan Vati works in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी कैसे काम करती है
4. Divya Shilajeet Rasayan Vati Side effect in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के साइड इफेक्ट्स और नुकसान
5. Drug Interaction of Divya Shilajeet Rasayan Vati in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी की पारस्परिक क्रिया
6. Divya Shilajeet Rasayan Vati Precautions in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के इस्तेमाल में सावधानियां
7. Divya Shilajeet Rasayan Vati overdose symptoms in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने पर होने वाले लक्षण
8. Divya Shilajeet Rasayan Vati frequently asked question in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के बारे में पूछे गये सवाल

Divya Shilajeet Rasayan Vati Uses in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी का उपयोग निम्न लक्षणों में किया जाता है

आइये जानते हैं कि इस दवा का इस्तेमाल और किन किन समस्याओं के इलाज में किया जा सकता है।

यह दवा अन्य उपयोगों के लिए भी निर्धारित की जा सकती है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

Ingredients of Divya Shilajeet Rasayan Vati in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी में इस्तेमाल होने वाली सामग्री

How Divya Shilajeet Rasayan Vati works in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी कैसे काम करती है

यह जड़ी बूटी एक प्रभावी अनुकूलन के रूप में काम करती है जो मानसिक और शारीरिक ऊर्जा का समर्थन करने वाले न्यूरोट्रांसमीटर को पुनर्स्थापित करती है और पूरे शरीर के लिए एक शक्तिवर्धक टॉनिक का काम करती है।

दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के सेवन करने की विधि –
इस दवा को दिन में 2 बार (एक बार में एक वटी) सेवन करना चाहिए। इसे सुबह-शाम दूध या गुनगुने पानी से लेना चाहिए। और अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Divya Shilajeet Rasayan Vati Side effect in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के साइड इफेक्ट्स और नुकसान

दिव्य शिलाजीत रसायन वटी का इस्तेमाल करने से आपको कई सारे साइड इफ़ेक्ट हो सकते हैं लेकिन ये साइड इफेक्ट्स आपको हमेशा महसूस नहीं होंगे। जब भी आपको नीचे बताये गये साइड इफेक्ट्स महसूस हों तो आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

  • क्रप्या इस जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या दवा विक्रेता से सम्पर्क करें।

Drug Interaction of Divya Shilajeet Rasayan Vati in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी की पारस्परिक क्रिया

अगर आप इस वटी के साथ कोई अन्य दूसरी टैबलेट इस्तेमाल करना चाहते हैं तो हो सकता है कि इसके साइड इफेक्ट्स बढ़ जाएं या फिर इसका प्रभाव कुछ कम हो जाए। अगर इसके इस्तेमाल से ऐसी स्थिति उत्पन्न हो रही है तो आप तुरंत डॉक्टर से सलाह लें जिससे कि आपको कोई गंभीर समस्या ना हो। निम्नलिखित वटी के साथ पारस्परिक क्रिया हो सकती है।

  • क्रप्या इस जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या दवा विक्रेता से सम्पर्क करें।

Divya Shilajeet Rasayan Vati Precautions in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के इस्तेमाल में सावधानियां

  • इस दवा को बच्चों की पहुँच से दूर रखना चाहिए।
  • यह दवा वयस्कों के लिए उपयुक्त है, क्योंकि यह प्रजनन अंगो पर अपना असर दिखती है।
  • इस दवा को अधिक मात्रा में न लें।
  • यदि आप अतिसंवेदनशीलता से पीड़ित हैं, तो इस दवा का प्रयोग न करें।
  • अगर आपको इसमें मौजूद सामग्री से एलर्जी है तो इसका इस्तेमाल ना करें या फिर डॉक्टर से सलाह लें।
  • अगर आप पहले से ही कोई विटामिन ले रहें हैं तो इस वटी का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।
  • इस टैबलेट को ऐल्कोहल के साथ इस्तेमाल न लें।

Divya Shilajeet Rasayan Vati overdose symptoms in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने पर होने वाले लक्षण

यदि आप बहुत अधिक मात्रा में इस वटी इस्तेमाल करते हैं, तो आपके शरीर में दवा के खतरनाक स्तर हो सकते हैं। ओवरडोज के लक्षणों में निम्न दुष्प्रभाव शामिल हो सकते हैं, जैसे

  • क्रप्या इस जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या दवा विक्रेता से सम्पर्क करें।

यदि आपको लगता है कि आपने इस दवा को बहुत अधिक मात्रा में इस्तेमाल कर लिया है और आपके लक्षण अधिक गंभीर हैं, तो तुरंत निकटतम डॉक्टर के पास में जाएं और उन्हें अपने लक्षणों को बताये।

Divya Shilajeet Rasayan Vati frequently asked question in hindi – दिव्य शिलाजीत रसायन वटी के बारे में पूछे गये सवाल

1) दिव्य शिलाजीत रसायन वटी (Divya Shilajeet Rasayan Vati) को खाली पेट सेवन किया जा सकता है?

जी नहीं दिव्य शिलाजीत रसायन वटी भोजन के बाद लेना चाहिए, और अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

2) क्या दिव्य शिलाजीत रसायन वटी (Divya Shilajeet Rasayan Vati) को महिलाएं इस्तेमाल कर सकती है?

आमतौर पर इस दवा का इस्तेमाल पुरषों के द्वारा किया जाता है। और अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

3) क्या दिव्य शिलाजीत रसायन वटी (Divya Shilajeet Rasayan Vati) को इस्तेमाल करने पर मुझे इसकी आदत या लत पड़ सकती है?

जी नहीं अगर आप डॉक्टर के बताये अनुसार इस वटी का इस्तेमाल करते है तो इसकी लत नहीं पड़ती है।

4) दिव्य शिलाजीत रसायन वटी (Divya Shilajeet Rasayan Vati) को कितना इस्तेमाल करना चाहिए?

इस वटी को दिन में दो बार इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन इसके लिए डॉक्टर से सलाह लेना आवश्यक है।

5) दिव्य शिलाजीत रसायन वटी (Divya Shilajeet Rasayan Vati) को कितने दिन तक इस्तेमाल कर सकते है?

इस दवा को कम से कम एक महीने तक इस्तेमाल करना चाहिए। इसे 3 महीने भी लिया जा सकता है, और इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration