दुबलापन मिटाने और वजन बढ़ाने के लिय वरदान है अश्वगंधा और शतावरी, Ashwagandha and shatavri for weight gain in hindi

दुबलापन मिटाने और वजन बढ़ाने के लिय वरदान है अश्वगंधा और शतावरी, Ashwagandha and shatavri for weight gain in hindi
Written by Shivam

आयुर्वेद के मुताबिक अश्वगंधा और शतावरी के चूर्ण से बनी इस औषधि का असर एक सप्‍ताह के भीतर ही दिखने लगता है। वजन बढ़ाने और दुबलापन मिटने के लिए जिनका तमाम कोशिशों के बाद भी वजन न बढ़ पा रहा हो उनके लिए आयुर्वेद में एक बेहतरीन उपाय है, अश्वगंधा और शतावरी।

जिस तरह लोग मोटापे से परेशान हैं उसी तरह लोग पतलेपन से भी परेशान हैं। दुर्बल शरीर होना भी उपहास का विषय बन जाता हैं। अगर कमज़ोर व्यक्ति इन पदार्थो को अपने भोजन में शामिल करेगा तो वो कुछ ही दिनों में मोटा ताज़ा, सुन्दर और आकर्षक हो जायेगा।

आयुर्वेद के मुताबिक अश्वगंधा और शतावरी के सेवन से दुर्बल व्यक्ति की सेहत भी दुरुस्त हो सकती है। ऐसे लोग जिन्हें खाना न पचता हो या जिन्हें शारीरिक अति क्षीणता की शिकायत हो ऐसे लोग इस आयुर्वदिक औषधि का इस्तेमाल वजन बढ़ाने के लिए कर सकते हैं। आजकल बहुत से युवा आकर्षक बॉडी पाने के लिए तमाम तरह की दवाओं आदि का सेवन करते हैं। ऐसे लोग भी शतावरी और अश्वगंधा के सेवन से बिना किसी साइड इफेक्ट के स्वस्थ और आकर्षक शरीर पा सकते हैं। [और पढ़े: शरीर से दुबलापन हो जायेगा छूमंतर अगर करोगे इन 10 चीजों का सेवन ]

कैसे करें सेवन – किसी भी उम्र के लोग अश्‍वगंधा और शतावरी का सेवन कर सकते हैं। इनके सेवन से पहले एक बार चिकित्‍सक की सलाह भी जरूर लेनी चाहिए। अश्वगंधा और शतावरी में ऐसे तत्‍व विद्यमान होते हैं जो बहुत गंभीर रोगों के उपचार में भी कारगर होते हैं। अश्‍वगंधा और शता‍वरी का चूर्ण मार्केट या ऑनलाइन में बड़ी आसानी से मिल जाता है। आप चाहें तो 100-100 ग्राम का पैक लेकर उन्‍हें आपस में मिला लें और रोजाना सुबह और शाम आधा चम्‍मच यानी लगभग 5 ग्राम चूर्ण गर्म दूध में मिलाकर पिएं। आयुर्वेद के मुताबिक अश्वगंधा और शतावरी के चूर्ण से बनी इस औषधि का असर एक सप्‍ताह के भीतर ही दिखने लगता है। इसके सेवन से तेजी से वजन बढ़ता है। इसका सेवन करने के साथ-साथ व्‍यायाम करना भी जरूरी होता है।

शतावरी तथा अश्वगंधा के अन्य लाभ – शरीर को ताकत, प्रदान करने के लिए और आलस, थकान आदि दूर करने में अश्वगंधा का प्रयोग किया जाता है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार औषधि है। साथ ही साथ तनाव कम करने, अनिद्रा, नपुंसकता को दूर करने और सेक्स संबंधी समस्याओ को दूर करने के लिए भी अश्वगंधा का प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा जिन व्यक्तियों में कमजोरी, धातु दुर्बलता, नपुंसकता, शारीरिक क्षीणता है उनके लिए शतावरी बेहतरीन औषधि है। [और पढ़े:योग के द्वारा वजन बढ़ाने के तरीके Ways to Increase Weight by Yoga in hindi ]

बादाम और मक्खन

दस बादाम भिगो कर, पीसकर, ५० ग्राम मक्खन में स्वादनुसार बूरा शक्कर मिला कर डबल रोटी में मिलाकर नित्य खाए और खाकर गर्म दूध पिए। कम से कम तीन महीने। मोटापा बढ़ जाएगा। मस्तिष्क भी तेज़ होगा। सर्दी के मौसम में यह प्रयोग विशेष लाभ देता हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration