कुक्कुटासन योग करने का तरीका और फायदे – Kukkutasana Yoga Steps And Benefits In Hindi

कुक्कुटासन योग करने का तरीका और फायदे - Kukkutasana Yoga Steps And Benefits In Hindi
Written by Hemant

Kukkutasana Yoga in hindi कुक्कुटासन एक उन्नत संतुलन योग है जिसमें पैरों के अच्छे लचीलेपन की आवश्यकता होती है और यह हाथों और कंधों को लाभ पहुंचाता है। कुक्कुटासन मूलाधार चक्र को उत्तेजित करता है और इसका उपयोग कुंडलिनी शक्ति के जागरण या रीढ़ के आधार पर कुंडलित ऊर्जा के लिए किया जाता है। जब शरीर उत्तेजित होता है तो आलस्य गायब हो जाता है। यह एक कठिन मुद्रा है जिसे अच्छी तरह से पूरा करने के लिए हाथों की शक्ति की आवश्यकता होती है। इस आसन को सही करने के लिए कई वर्षों के प्रशिक्षण, महान शारीरिक शक्ति और मानसिक आत्मसंयम की जरूरत होती है। आइये कुक्कुटासन योग करने का तरीका और फायदे को बिस्तार से जानते हैं।

1. कुक्कुटासन क्या है – What is Kukkutasana in Hindi
2. कुक्कुटासन योग करने से पहले यह आसन करें – Kukkutasana yoga se pahle ye aasan kare in Hindi
3. कुक्कुटासन योग करने का तरीका – Steps to do Kukkutasana yoga in Hindi
4. शुरुआती लोगों के लिए कुक्कुटासन योग करने की प्रारंभिक टिप – Beginner’s Tip to do Kukkutasana yoga in Hindi
5. कुक्कुटासन योग करने फायदे – Benefits Of The Kukkutasana yoga in Hindi
6. कुक्कुटासन योग करने से पहले यह सावधानी रखें – Precautions to do Kukkutasana yoga in Hindi

कुक्कुटासन क्या है – What is Kukkutasana in Hindi

कुक्कुटासन एक योग आसन है जिसका नाम संस्कृत से लिए गया है। कुक्कुटासन शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है जिसमें पहला शब्द “कुक्कुट” है जिसका अर्थ “मुर्गा” होता है और इसका दूसरे शब्द “आसन” है जिसका अर्थ “मुद्रा या स्थिति” होता है। इसक योग को करने वाला व्यक्ति एक मुर्गा के सामान दिखाई देता है इसलिए इसका नाम कुक्कुटासन या मुर्गा मुद्रा रखा गया। कुक्कुटासन को अंग्रेजी में रोस्टर पोज (rooster pose) भी कहा जाता है। इस योग का उल्लेख हठ योग प्रदीपिका और घेरंडा संहिता जैसे प्राचीन योग शास्त्रों में किया गया है। यह एक जटिल आसन है जिसे अच्छी तरह से करने के लिए हाथ की ताकत की आवश्यकता होती है। आइये कुक्कुटासन करने की विधि को विस्तार से जानते हैं।

कुक्कुटासन योग करने से पहले यह आसन करें – Kukkutasana yoga se pahle ye aasan kare in Hindi

कुक्कुटासन योग करने से पहले आप नीचे दिए गए कुछ आसन का अभ्यास करें जिससे आपको इस आसन करने में आसानी होगी-

कुक्कुटासन योग करने का तरीका – Steps to do Kukkutasana yoga in Hindi

कुक्कुटासन योग आसन आपको पहले करने थोड़ा कठिन लग सकता है, लेकिन लगातार अभ्यास के बाद आप इस योग को आसानी से कर सकते हैं। आप कुक्कुटासन योग करने के लिए निम्न स्टेप्स को करें।

  • कुक्कुटासन योग करने लिए आप पहले एक योगा मैट को बिछाकर उस पर पद्मासन योग की स्थिति में बैठ जाएं।
  • अब आप अपने दोनों हाथों को अपनी जांघों और पिंडलियों के बीच में डालें।
  • आपको पद्मासन की स्थिति में बैठे हुए अपने दाएं हाथ को दायीं जांघ और पिंडली के बीच से हाथ डालकर फर्श की ओर करना हैं।
  • अब आप बाएं हाथ को भी दाएं हाथ की तरह से बायीं जांघ और बायीं पिंडली के बीच से डालकर नीचे फर्श की ओर करना है।
  • आपको अपने दोनों हाथों को जांघों और पिंडलियों से नीचे की ओर कोहनी तक नीचे निकालना है।
  • अब अपने दोनों हाथों की हथेलियों को फर्श पर एक दूसरे से 3-4 इंच दूरी पर अच्छी तरह से रखें।
  • फिर दोनों हाथों पर संतुलन बनाते हुए अपने कूल्हों और पैरों को फर्श से ऊपर उठायें।
  • आप इस कुक्कुटासन योग की स्थिति में 1 से 5 मिनिट तक रहें, या आप इसे अपनी सुविधा के अनुसार कर सकते हैं।
  • इस योग के दौरान आप अपनी साँस को सामान्य ही रखें।

शुरुआती लोगों के लिए कुक्कुटासन योग करने की प्रारंभिक टिप – Beginner’s Tip to do Kukkutasana yoga in Hindi

अगर आप एक बिगिनर हैं और योग अभ्यास की अभी-अभी शुरुआत कर रहें है तो आपको कुक्कुटासन योग करने में कठिनाई हो सकती है। आप इस योग को करने से पहले पद्मासन और बकासन योग का अच्छी तरह से अभ्यास करें। बिगिनर अपने दोनों हाथों पर संतुलन बनाते समय ध्यान रखें क्योंकि संतुलन बिगड़ने पर आपको चोट भी लग सकती है। यदि आपको अपने दोनों हाथों को जांघों और पिंडलियों के बीच से हाथों को डालने में कठिनाई हो रही है, तो आप अपने पैरों के मध्य तेल लगा सकते है, इससे हाथ आसानी से फिसल जायेंगे।

कुक्कुटासन योग करने के फायदे – Benefits Of Kukkutasana yoga in Hindi

कुक्कुटासन योग आसन हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं। यह हमारे शरीर में होने वाली कई प्रकार की समस्या से हमें दूर रखता हैं। आइये इसके लाभों को विस्तार से जाते हैं।

हाथ और कंधे मजबूत करे कुक्कुटासन योग – Kukkutasana yoga for Strengthens Your Arms and Shoulder in Hindi

कुक्कुटासन योग आपके आर्म्स और शोल्डर को मजबूत करता है। कुक्कुटासन के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह पेट, छाती, हाथ और कंधे सहित आपके पूरे ऊपरी शरीर को फैलाता है, और इन क्षेत्रों में रक्त के प्रवाह में मदद करता है जो मांसपेशियों को मजबूत और टोन करता है। इस योग के दैनिक अभ्यास से चोट लगने का खतरा कम हो जाता है और इससे पेट, छाती, हाथ और कंधे में किसी भी तरह के दर्द को ठीक किया जा सकता है।

(और पढ़ें –  कंधे की अकड़न (फ्रोजन शोल्डर))

कुक्कुटासन योग के फायदे हृदय स्वास्थ्य में – Kukkutasana yoga for Cardiovascular Health in Hindi

हमारे ह्रदय को स्वस्थ रखने के लिए कुक्कुटासन योग बहुत ही अच्छा योग माना जाता है। कई अध्ययनों से यह साबित हुआ है कि कुक्कुटासन दिल का दौरा और उच्च कोलेस्ट्रॉल आदि के जोखिम को रोकता है। यह योग छाती को खोलता है और रक्त के प्रवाह को बढ़ावा देता है जो हृदय को स्वस्थ रखता है। इसके अलावा कुक्कुटासन योग रक्त का सुचारू प्रवाह को सुनिश्चित करता है जिससे धमनियां कोलेस्ट्रॉल के निर्माण से मुक्त रहें।

(और पढ़ें – दिल को मजबूत बनाने के लिए योगासन)

कुक्कुटासन योग के लाभ पाचन क्षमता बढायें  – Kukkutasana yoga for Improves Digestion Ability in Hindi

कुक्कुटासन का नियमित अभ्यास पाचन स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है और कब्ज जैसे पाचन से संबंधित समस्याओं की रोकथाम में सहायता करता है। इस योग को करने से पेट के अंगों पर दबाव पड़ता है जिससे एंजाइम और पाचन रस का उत्पादन बढ़ा है। इसके परिणामस्वरूप खाया गया भोजन आसानी से पच जाता है जिससे अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है।

(और पढ़ें – पेट साफ करने और कब्ज दूर करने के योग)

बाइसेप्स और ट्राइसेप्स मसल्स के लिए कुक्कुटासन योग – Bicep aur Triceps Muscles ke liye Kukkutasana yoga in Hindi

आप कुक्कुटासन योग के नियमित अभ्यास के साथ अपनी बाइसेप और ट्राइसेप्स मांसपेशियों को टोन कर सकते हैं। इस योग के दौरान आपके पूरे शरीर का भार आपकी बाहों पर होता है जो न केवल रक्त परिसंचरण को बढ़ाता है बल्कि उन्हें टोन भी करता है। इस योग में रक्त के प्रवाह में वृद्धि के साथ, मांसपेशियों को आवश्यक पोषण मिलता है जिसके परिणामस्वरूप उनकी वृद्धि होती है।

कुक्कुटासन योग के फायदे पेट कम करे – Kukkutasana yoga ke fayde pet kam kare in Hindi

अपने भारी पेट को कम करने और पेट की चर्बी को घटाने के लिए कुक्कुटासन योग बहुत ही फायदेमंद होता हैं। अपने वजन को कम करने के लिए आपको दैनिक आधार पर इस योग का अभ्यास करना चाहिए। कुक्कुटासन योग आपके पेट की मांसपेशियों पर काफी दबाव डालता है। जिससे आपके पेट की मांसपेशियां टोन हो जाती हैं और अतिरिक्त वसा क्षेत्र से कम हो जाता है।

(और पढ़ें – पेट कम करने के लिए योग)

कुक्कुटासन योग करने से पहले यह सावधानी रखें – Precautions to do Kukkutasana yoga in Hindi

कुक्‍कुटासन योग हमारे शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाने का बेहतर तरीका है। लेकिन इस योगासन को करने के दौरान आपको विशेष सावधानी रखने की आवश्‍यकता होती है।

  • जिन लोगों हृदय संबंधी रोग होते हैं उन्‍हें कुक्‍कुटासन योग करने से बचना चाहिए।
  • यदि आपके हाथों और विशेष रूप से भुजाओं में दर्द हो तब ऐसी स्थिति इस योग को नहीं करना चाहिए।
  • कंधों में दर्द होने की स्थिति में इस योग को न करें। अन्‍यथा यह आपकी तकलीफ को और अधिक बढ़ा सकता है।
  • जिन लोगों को कोहनी मोड़ने में परेशानी है या कोहनी संबंधी समस्‍या है उन लोगों को इस योग को करने से दूर रहना चाहिए।
  • प्‍लीहा की समस्‍या से ग्रस्‍त रोगी को कुक्‍कुटासन योग नहीं करना चाहिए।
  • इस योग करते समय इस बात का विशेष ध्‍यान रखें कि खाली पेट ही इस योग को किया जाना चाहिए।
  • यदि आपकी कलाई की नसों में रक्‍त प्रवाह या अन्‍य प्रकार की समस्‍या है तब इस योग को करने की सलाह नहीं दी जाती है।
  • यदि आपके हाथ और कंधों में मोच है तब भी आपको मोच ठीक होने तक इस योग को करने से बचना चाहिए।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration