जानें योनि एग क्या है, योनि एग का उपयोग और फायदे – What is yoni ball or egg and its benefits in Hindi




जानें योनि एग क्या है, योनि एग का उपयोग और फायदे - What is yoni ball or egg and its benefits in Hindi
Written by Daivansh

Yoni ball or egg in Hindi हिंदू धर्म में योनि को एक पवित्र स्थान और देवी या शक्ति का प्रतीक माना जाता है। प्राचीन काल में चीन की रानियों और दासियो ने अपने पेल्विक क्षेत्र को मजबूत करने के लिए योनि एग का उपयोग करना प्रारंभ किया था। इस गुप्त प्रथा को दोबारा से खोजा गया और अब हर देशों में यह विकसित हो गया है। ज्यादातर महिलाएं अब प्राण ऊर्जा को जीवित करने के लिए योनि एग का इस्तेमाल करने लगी हैं। अगर आप योनि एग के बारे में बिल्कुल भी नहीं जानती हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि योनि एग क्या है, इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है और योनि एग के फायदे क्या हैं।

1. योनि एग क्या है – What is yoni egg in Hindi
2. कौन सा योनि एग अच्छा होता है – kaun sa yoni egg acha hota hai in Hindi
3. योनि एग का उपयोग कैसे करें – How to use a Yoni Egg in Hindi
4. योनि एग के फायदे – Yoni Eggs Benefits in Hindi

5. योनि एग के नुकसान – Yoni Eggs side effects in Hindi

योनि एग क्या है – What is yoni egg in Hindi

योनि एग क्या है - What is yoni egg in Hindi

योनि एग अंडे की आकृति जैसा एक कीमती पत्थर होता है। जिसे योनि को सक्रिय करने और पेल्विक क्षेत्र को मजबूत बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। आमतौर पर योनि एग एक ऑब्सिडियन, एमेथिस्ट, रोज क्वार्ट्ज आदि बेशकीमती पत्थरों का बना होता है। माना जाता है कि महिलाओं की योनि शरीर का केंद्र होती है जिससे की जीवन की उत्पत्ति होती है। इसलिए यह जीवन के प्राण ऊर्जा से जुड़ी हुई होती है। आमतौर पर योनि की बनावट ऐसी होती है कि सुषुप्त या सोयी हुई अवस्था में होती है, इसका अर्थ यह है कि महिलाएं अपनी योनि या गर्भ की ऊर्जा से नहीं जुड़ पाती हैं। योनि एग इस एनर्जी को जगाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि योनि एग को जेड एग (jade egg) भी कहा जाता है।

कौन सा योनि एग अच्छा होता है – kaun sa yoni egg acha hota hai in Hindi

ब्लैक ऑब्सिडिएन योनि एक बहुत अनोखा एवं शक्तिशाली होता है और ऊर्जा को परिवर्तित करने का कार्य करता है। माना जाता है कि यह एग रुट चक्र को मजबूत करता है और सभी कोशिकाओं को सक्रिय बनाता है। ऑब्सिडिएन एक ग्राउंडिंग स्टोन होता है जो धरती की ऊर्जा और शक्ति से हमें जोड़ने का कार्य करता है।

इसके अलवा रोज क्वार्ट्ज एग शरीर, आत्मा एवं जीवन से प्यार करना सीखाता है। यह एनर्जी पैदा करता है और हृदय चक्र को खोलता है। इसके अलावा भी कई प्रकार के योनि एग पाये जाते हैं जिनका अपने आप में खास महत्व है।

योनि एग का उपयोग कैसे करें – How to use a Yoni Egg in Hindi

आमतौर पर योनि एग का उपयोग बहुत आसान है। इसे विभिन्न लाभ प्राप्त करने के लिए कई प्रकार से इस्तेमाल किया जाता है।

योनि की मांसपेशियों की एक्सरसाइज के लिए: योनि एग का सबसे आम उपयोग कीगल एक्सरसाइज के माध्यम से योनि की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में होता है। सबसे पहले बहुत आसानी से योनि एग को अपनी योनि में डालें और कीगल एक्सरसाइज शुरू करें।

मेडिटेशन करने के लिए: योनि एग का उपयोग मेडिटेशन करने के लिए करें। योनि के अंदर योनि एग को डालें और उसे अपने हाथों से पकड़े रहें। इसके बाद एकदम सहज होकर बैठे रहें और अपने मस्तिष्क को शांत रखें और अपने को आध्यात्म से जोड़ने की कोशिश करें। योनि एग के माध्यम से आ रही ऊर्जा को अपने अंदर महसूस करें।

योनि एग से सेक्स करें :सबसे पहले छोटे साइज का योनि एग लें। उसे अपनी योनि में डालें और आरामदायक पोजीशन में आ जाएं। इसके बाद अपनी क्लिटोरिस को सहलाएं और योनि एग से सेक्स का आनंद उठाएं।

योनि ब्रीदिंग: यह योनि और सेक्सुअल एनर्जी को जोड़ने का अभ्यास है। अपनी योनि में योनि एग डालें और इसे पकड़े रहें। इसके बाद अपने शरीर, मस्तिष्क और योनि पर ध्यान केंद्रित करते हुए धीरे धीरे सांस लें और छोड़ें। सांस लेते समय अपनी योनि की मांसपेशियों को सिकोड़े और सांस छोड़ते समय मांसपेशियों को ढीला कर लें। इससे आपकी यौन ऊर्जा बढे़गी।

योनि एग के फायदे – Yoni Eggs Benefits in Hindi

आमतौर पर योनि एग एनर्जी पैदा करने के लिए बहुत लाभदायक होता है। यह शरीर और आत्मा का मिलन कराता है। इसके अलावा भी योनि एग के कई अन्य फायदे हैं।

योनि एग के फायदे पेल्विक फ्लोर के लिए – Yoni Eggs for Healthy Pelvic Floor in Hindi

पेल्विक फ्लोर को मजबूत करने के लिए विशेष एक्सरसाइज की आवश्यकता होती है जिससे की पेल्विक क्षेत्र की तंत्रिकाओं को पोषण मिल सके और ये मजबूत हो सकें। योनि एग मांसपेशियों में संकुचन पैदा करने का कार्य करता है जिसके कारण पेल्विक क्षेत्र की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और बेहतर तरीके से कार्य करती हैं। इसके उपयोग से जननांगों में भी किसी तरह की गंभीर समस्या नहीं होती है और श्रोणि क्षेत्र भी स्वस्थ रहता है।

ब्लड सर्कुलेशन के लिए योनि एग के फायदे – Yoni Eggs Improved Blood Circulation in Hindi

शरीर एवं जननांगों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने के लिए योनि एग बहुत फायदेमंद है। जब आप नियमित रुप से योनि एग से कीगल एक्सरसाइज करती हैं तो यह आपकी योनि के आसपास की तंत्रिकाओं एवं मांसपेशियों को सक्रिय बनाने एवं व्यस्त रखने का कार्य करती है जिसके कारण जननांगों में ब्लड का सर्कुलेशन बेहतर तरीके से होता है और सेक्स के दौरान आप चरमोत्कर्ष पर पहुंच सकते हैं।

अच्छे सेक्स के लिए योनि बाल के फायदे – Achhe sex ke liye yoni baal ke fayde in Hindi

सेक्स ऑर्गन की एक्सरसाइज करना हमारे शरीर के अन्य अंगों की तरह ही जरूरी होता है। योनि एग का इस्तेमाल करने से सेक्स करने की क्षमता बढ़ती है और आनंद भी खूब आता है। इसका कारण यह है कि योनि एग प्राकृतिक रुप से योनि में उत्तेजना पैदा करने का कार्य करती है। इसके कारण आपका यौन जीवन बेहतर होता है। इसलिए योनि एग का इस्तेमाल करने से आप बेहद अनोखे तरीके से सेक्स का मजा ले सकती हैं।

(और पढ़ें – यौन उत्तेजना क्या है, यौन उत्तेजना न होने के कारण, लक्षण और इलाज)

योनि एग के फायदे योनि की चिकनाहट के लिए – Yoni Eggs for Lubrication in Hindi

उम्र बढ़ने के साथ ही  महिलाओं की योनि ड्राई होने लगती है जिसके कारण उन्हें यौन संबंध बनाने की इच्छा नहीं होती है। इसके अलावा कुछ महिलाओं को कम उम्र में ही ऐसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। योनि एग का उपयोग करने से योनि की शुष्कता समाप्त हो जाती है जिसके कारण योनि की चिकनाहट और इसका गीलापन प्राकृतिक तरीके से लौट आता है। इस स्थिति में संभोग करने से महिला को दर्द का अनुभव नहीं होता है और वह सेक्स का भरपूर आनंद उठाती है।

(और पढ़ें – योनि (वैजाइना) से जुडे़ ये फैक्ट जान कर रह जाएंगी आप हैरान)

योनि एग के फायदे लचीलापन बनाए रखने के लिए – Yoni Eggs for vagina elasticity in Hindi

ज्यादातर महिलाओं को यह अंदाजा भी नहीं होता है कि योनि का स्वस्थ होना कितना जरूरी है। अगर आपकी योनि निष्क्रिय या शुष्क है तो इसका मतलब यह है कि आपकी योनि कमजोर है। योनि के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में योनि एग बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। वास्तव में मेनोपॉज से पहले और मेनोपॉज के बाद महिलाओं की योनि के अंदर का लचीलापन खत्म होने लगता है और सेक्स में आनंद नहीं आता है। योनि एग का उपयोग करने से योनि की चिकनाहट और लचीलापन दोनों बना रहता है।

(और पढ़ें – योनि को टाइट करने के असरदार घरेलू उपाय और तरीके)

योनि एग के फायदे संवेदनशीलता बढ़ाने के लिए – Yoni Eggs Increase sensitivity in Hindi

किसी भी महिला की योनि उसके शरीर का मुख्य केंद्र होती है। इसलिए अगर योनि में सही तरीके से संवेदना महसूस हो रही हो तभी आप उत्तेजना और चरमोत्कर्ष का अनुभव कर सकती हैं। योनि एग का उपयोग करने से यह मूत्राशय, आंत, गर्भाशय एवं मलाशय जैसे अंगों को लटकने से रोकता है। इसके अलावा यह मांसपेशियों को भी मजबूत बनाता है जिसके कारण आपके शरीर के ये सभी अंग अधिक उम्र के बावजूद भी अपने स्थान पर बने रहते हैं।

(और पढ़ें – चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे)

हार्मोन संतुलन के लिए योनि एग के फायदे – Yoni Eggs balance hormones in Hindi

महिलाओं में हार्मोन का असंतुलन होना एक आम बात है। इसकी वजह से उन्हें विभिन्न समस्याओं का सामना करना पड़ता है। योनि एग का प्रयोग करने से धीरे धीरे हार्मोन संतुलन की अवस्था में आ जाता है। इसके अलावा योनि एग पेनिट्रेटिव सेक्स में भी सहायता करता है और डिलीवरी के बाद योनि को जल्दी ठीक होने में भी मदद करता है और लीकेज के जोखिम को कम करता है।

(और पढ़ें – महिलाओं में हार्मोन असंतुलन के कारण, लक्षण और इलाज)

योनि एग के नुकसान – Yoni Eggs side effects in Hindi

  • अगर योनि एग को सही तरीके से साफ करके योनि के अंदर नहीं डाला गया तो यह योनि में इंफेक्शन पैदा करने से साथ ही टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम (TSS) के खतरे को भी बढ़ाता है।
  • कई बार योनि एग को साफ करने के बाद भी योनि में डालने पर इसमें बैक्टीरिया चिपका होता है जो योनि में प्रवेश कर जाता है।
  • लंबे समय तक योनि एग को योनि के अंदर डालने से यह योनि से होने वाले प्राकृतिक स्राव को रोक देता है।
  • योनि एग का इस्तेमाल करने के बाद आपकी योनि में जलन, खरोंच और योनि की कोशिकाओं से तरल पदार्थ निकल सकता है।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration