महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज के फायदे और करने का तरीका – Kegel Exercise For Women In Hindi

महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज के फायदे और करने का तरीका - Kegel Exercise For Women In Hindi
Written by Anshika sarda

Kegel Exercise For Women In Hindi महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज काफी ज्यादा पॉपुलर होती जा रही है। अक्सर महिलाएं कीगल एक्सरसाइज को अपनी पेल्विक फ्लोर की मसल्स को मजबूत करने के साथ ही योनि को टाइट करने के लिए भी करती हैं कीगल एक प्रकार की बेहद सरल एक्सरसाइज होती है जो कि पेल्विक फ्लोर की मसल्स को मजबूती प्रदान करने के लिए की जाती है।

कूल्हों के बीच का स्थान पेल्विक कहलाता है जहां पर आपका रिप्रोडक्टिव ऑर्गन(reproductive organs) यानि जननांग होता है। सामान्य भाषा में कहा जाए तो पेल्विक वह हिस्सा है जो कि मांसपेशियों और ऊत्तकों की एक श्रंखला होता है जो कि श्रोणि के तल पर जननांगों को उनका आकार देता है। पेल्विक फ्लोर के कमजोर होने के कारण शरीर की ब्लैडर और मूत्राशय की पकड़ कमजोर हो जाती है। एक बार कीगल एक्सरसाइज(Kegel exercises) सीखने पर आप उसे कभी भी और कहीं भी कर सकते हैं। इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से बताने जा रहें कि कीगल एक्सरसाइज क्या होती है और कैसे की जाती है। आइए जानते हैं कीगल एक्सरसाइज करने की विधि और उसके फायदों के बारे में।

1. महिलाओं द्वारा कीगल एक्सरसाइज क्यों कि जाती है – Why should Women Do Kegel exercises in Hindi
2. महिलायें ऐसे करें अपनी पेल्विक मसल्स की पहचान – Finding the pelvic floor muscles in women in Hindi
3. महिलाएं कैसे करें कीगल एक्सरसाइज – How To Do Kegel exercises in Hindi
4. कीगल एक्सरसाइज करने के लिए जरुरी सावधानियां – What are the Cautions of Kegel Exercise For Women In Hindi
5. महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज करने के फायदे – Benefits of Kegel Exercise For Women In Hindi

महिलाओं द्वारा कीगल एक्सरसाइज क्यों कि जाती है – Why should Women Do Kegel exercises in Hindi

महिलाओं द्वारा कीगल एक्सरसाइज क्यों कि जाती है - Why should Women Do Kegel exercises in Hindi

महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए ही कीगल एक्सरसाइज करना फायदेमंद होता है। बहुत सारी चीजों जैसे- गर्भधारण, शिशु को जन्म देने, बढ़ती उम्र और वजन बढ़ने के कारण महिलाओं का पेल्विक फ्लोर (pelvic floor ) कमजोर हो जाता है। पेल्विक फ्लोर की मसल्स गर्भाशय, ब्लैडर और बोवेल को सहारा देती है। अगर पेल्विक फ्लोर की मसल्स कमजोर हो जाती है तो महिलाओं की वेजाइना में पेल्विक फ्लोर भी नीचे हो जाता है जो कि अत्यधिक असुविधाजनक होता है और इससे मूत्र रोकने में परेशानी पैदा होने की समस्या हो जाती है। बढ़ती उम्र के साथ पुरुषों को भी पेल्विक फ्लोर कमजोर होने की समस्या पैदा हो सकती है। इससे पेशाब करने और पॉटी करने में परेशानी होती है और यह समस्या उन पुरुषों को ज्यादा होती है जिनकी प्रोस्टेट सर्जरी हो चुकी होती है।

(और पढ़े – पुरुषों के लिए Kegel Exercise अब जल्दी स्‍खलन की समस्‍या को भूल जाओ)

महिलायें ऐसे करें अपनी पेल्विक मसल्स की पहचान – Finding the pelvic floor muscles in women in Hindi

महिलायें ऐसे करें अपनी पेल्विक मसल्स की पहचान - Finding the pelvic floor muscles in women in Hindi

पेल्विक मसल्स की पहचान करने के लिए महिलाएं एक तरीका अपना सकती है। इसके लिए अपनी उंगलियां साफ करें और एक उंगली को अपनी वेजाइना में डालें। एक बार उंगली डालकर वेजाइना की जो भी मसल्स उंगली के चारों और है उन्हें टाइट(tight) कर लें। आपकी उंगली से जिन मसल्स का स्पर्श हो रहा है वे ही पेल्विक मसल्स होती हैं।

आप मूत्र करते समय बीच में मूत्र रोक कर भी पता लगा सकती है कि पेल्विक फ्लोर मसल्स कौनसी है। मूत्र रोकने से जिन मसल्स पर ज्यादा दबाव पड़ता है वे ही पेल्विक फ्लोर मसल्स होती है। इससे आपको पता चल जाता है कि जब पेल्विक फ्लोर मसल्स रिलेक्स होती है और जब वे खींची हुई होती है तो कैसा महसूस होता है।

हालांकि इसका इस्तेमाल सिर्फ जांच के लिए करें। कीगल एक्सरसाइज करते समय ब्लैडर एकदम खाली कर लें यानि शरीर में यूरिन नहीं होना चाहिए अन्यथा यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन की समस्या पैदा हो सकती हैं।

(और पढ़े – जानिए सामान्य प्रसव के बाद योनि में होने वाले बदलाव के बारे मे)

महिलाएं कैसे करें कीगल एक्सरसाइज – How To Do Kegel exercises in Hindi

महिलाएं कैसे करें कीगल एक्सरसाइज - How To Do Kegel exercises in Hindi

  • कीगल एक्सरसाइज (Kegel exercises) करने के लिए आपका ब्लैडर एकदम खाली होना चाहिए यानि पेशाब करने के बाद ही यह एक्सरसाइज करें।
  • पेल्विक फ्लोर की मसल्स को टाइट करें और टाइट करके ही मन में 8 तक गिनें।
  • 10 तक गिनते हुए मसल्स को रिलेक्स करें।
  • दिन में तीन बार 10- 10 के सेट में इसका अभ्यास करें।

(और पढ़े – योनि में सूखेपन का कारण और दूर करने के घरेलू उपाय)

कीगल एक्सरसाइज करने के लिए जरुरी सावधानियां – What are the Cautions of Kegel Exercise For Women In Hindi

कीगल एक्सरसाइज करने के लिए जरुरी सावधानियां - What are the Cautions of Kegel Exercise For Women In Hindi

  • अगर कीगल एक्सरसाइज (Kegel exercises) करने के बाद आपको पेट और कमर में दर्द महसूस होता है तो संकेत है कि आप इसे सही से नहीं कर रहे हैं।
  • हमेशा ध्यान रहे कि कीगल एक्सरसाइज करते समय आपके पेल्विक फ्लोर(pelvic floor) की मसल्स, पेट, कमर, कूल्हों की मसल्स के बीच सामंजस्य बना रहे।
  • बहुत ज्यादा एक्सरसाइज ना करें अन्यथा मसल्स थक जाती है और रोजाना के काम भी नहीं हो पाते हैं।

महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज करने के फायदे – Benefits of Kegel Exercise For Women In Hindi

महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज करने के फायदे - Benefits of Kegel Exercise For Women In Hindi

कीगल अभ्यास कई तरीकों से यौन कार्यों के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं। इनमे से मुख्य लाभों में शामिल हैं:

  • पेल्विक फ्लोर को टाइट करने के लिए यह एक्सरसाइज लाभकारी होती है।
  • महिलाएं अक्सर अपनी वेजाइना को टाइट रखने के लिए यह एक्सरसाइज करती है।
  • कीगल अभ्यास प्रसव के बाद विशेष रूप से सहायक हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि श्रोणि की मांसपेशियों में प्रसव के बाद खिचाव और सिकुडन होती होती है और प्रसव के दौरान कमजोर होता है, जो मूत्र सम्बन्धी समस्याएं पैदा कर सकती है और मांसपेशियों को भी कमजोर कर सकतीं है। इन मामलों में, महिलाओं के लिए कीगल एक्सरसाइज करना फायदेमंद होता है।

स्वास्थ्य और सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए नीचे दिए गए टॉपिक पर क्लिक करें

हेल्थ टिप्स | घरेलू उपाय | फैशन और ब्यूटी टिप्स | रिलेशनशिप टिप्स | जड़ीबूटी | बीमारी | महिला स्वास्थ्य | सवस्थ आहार |

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration