कोरोना के डर से लोग चेक कर रहे हैं अपना बॉडी टेम्परेचर, जानें बॉडी टेम्परेचर चेक करने का सही तरीका ? - Healthunbox
हेल्थ टिप्स

कोरोना के डर से लोग चेक कर रहे हैं अपना बॉडी टेम्परेचर, जानें बॉडी टेम्परेचर चेक करने का सही तरीका ?

कोरोना के डर से लोग चेक कर रहे हैं अपना बॉडी टेम्परेचर, जानें बॉडी टेम्परेचर चेक करने का सही तरीका ?

कोरोनावायरस के कारण आज आप कहीं भी जाएं, सभी जगहों पर आपको गेट के पास बॉडी टेम्परेचर चेक करने के लिए लोग और सैनिटाइजर रखा जरूर मिलेगा। इसके कारण अब यह लोगों की आदत में आ चुका है, अब जब भी लोग बाहर से अपने घर आते है तो अपनी बॉडी टेम्परेचर को चेक जरूर करते हैं। लोगों को उनके शरीर में अब जरा सी भी गड़बड़ी महसूस होती है तो वह अपना बॉडी टेम्परेचर को रेगुलर चेक करने लगते हैं।

आज सभी लोगों को पता है कि शरीर का तापमान बढ़ना भी कोरोना संक्रमण एक लक्षण है, इसलिए सावधानी रखना बहुत जरूरी हैं। शरीर का तापमान आपके स्वास्थ्य के बारे में बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारी देता है। लेकिन क्या आपको बॉडी टेम्परेचर चेक करना का सही तरीका पता है? आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे कि आप किस प्रकार से अपने घर पर ही सही तरीके से शरीर के तापमान की जाँच कर सकते हैं।

सामान्य टेम्परेचर किनता होता हैं 

सामान्य रूप से हम सभी बॉडी टेम्परेचर का नापने के लिए थर्मामीटर का इस्तेमाल करते हैं। अपना बॉडी टेम्परेचर देखने के लिए थर्मामीटर को बगल में लगा (अंडरआर्म) कर या मुंह में डालते हैं। किसी भी व्यक्ति के सामान्य शरीर का तापमान औसतन 37 ° C (98.6 ° F) होता है। हालांकि, कुछ लोगों के शरीर का तापमान सामान्य से थोड़ा अधिक गर्म या ठंडा हो सकता है जो कि एक सामान्य बात है। लेकिन यदि आपके शरीर का तापमान आपके सामान्य तापमान से बहुत अधिक गर्म या ठंडा हो तो यह संक्रमण से होने वाला बुखार या हाइपोथर्मिया आदि स्वास्थ्य समस्या के संकेत हो सकता है।

(और पढ़ें – शरीर का सामान्य तापमान कितना होता है, सामान्य रेंज और महत्व)

थर्मामीटर के प्रकार – Thermometer ke in Hindi

तापमान जाँच करने के लिए कई प्रकार के होते है आइये इसके प्रकार को विस्तार से जानते हैं।

मरकरी थर्मामीटर – Mercury thermometer in Hindi

पारा (Mercury) को एक कांच के एक ट्यूब में भर कर इस थर्मामीटर को बनाया जाता हैं। इस कांच के ट्यूब के ऊपर सामान्य तापमान लिखे होते हैं। पारा की प्रकृति ऐसी है कि यह तापमान बढ़ने या घटने पर फैलता और सिकुड़ता है। जिससे तापमान का पता लगाया जाता है। तापमान अधिक होने पर पारा फैलता है और ऊपर की ओर जाने लगता है।

डिजिटल थर्मामीटर – Digital thermometer in Hindi

यह मरकरी थर्मामीटर का एक डिजिटल रूप है। डिजिटल थर्मामीटर में तापमान हमें एक एक एलसीडी स्क्रीन पर दिखाई देता है। डिजिटल थर्मामीट को चलाने के लिए  एक बैट्री कि आवश्कता होती है जिसमें “सेंसर” और एलसीडी स्क्रीन होते हैं। डिजिटल थर्मामीटर (Digital thermometer) प्लास्टिक का बना होता हैं जो कि  एकदम सटीक तापमान दिखाते हैं। यह साथ में कहीं लेकर जाना और इस्तेमाल करने में आसान होता है। डिजिटल थर्मामीटर सेल्सियस में तापमान मापते हैं।

इन्फ्रारेड थर्मामीटर – Infrared Thermometer in Hindi

मरकरी थर्मामीटर और डिजिटल थर्मामीटर दोनों में तापमान निर्धारित करने के लिए संपर्क की आवश्यकता होती है। एक इन्फ्रारेड थर्मामीटर थर्मल विकिरण का उपयोग करता है जो वस्तुएं तापमान को मापने के लिए उत्सर्जित करती हैं।

थर्मामीटर से बॉडी टेम्परेचर नापने के तरीके

थर्मामीटर से बॉडी टेम्परेचर नापने के तरीके

यदि आप केवल थर्मामीटर को अपने मुंह में रखकर या बगल में लगाकर बॉडी टेम्परेचर चेक करते है तो हम आपको बता दें कि इसके अलावा और भी कई तरीके हैं जिससे आप अपने शरीर का तापमान देख सकते हैं। आप थर्मामीटर को निम्न चार जगह रख कर भी तापमान जाँच सकते हैं

  1. कान से बॉडी टेम्परेचर नापना
  2. माथे पर लगा कर टेम्परेचर देखना
  3. गुदा से (रेनल एरिया से) तापमान जांचना
  4. बगल में (अंडरआर्म से) टेम्परेचर चेक करना

टेम्परेचर नापने का सबसे सटीक तरीका

क्या आप जानते है कि मुंह, कान, माथा, अंडरआर्म और गुदा में से टेम्परेचर देखने का कौन सा तरीका सबसे सटीक होता हैं। शरीर के तापमान को चेक करने का सबसे सटीक तरीका कान, मौखिक और गुदा तापमान रीडिंग को माना जाता है। अंडरआर्म (एक्सिलरी) और माथे का तापमान रीडिंग को थोड़ा कम सटीक माना जाता है क्योंकि इसमें तापमान शरीर के बाहर से देखा जाता हैं। हालाँकि इसका मतलब यह नहीं है कि यह उपयोगी नहीं होता, यह भी शरीर के तापमान स्क्रीनिंग का एक अच्छा तरीका हो सकता है।

मुंह से टेम्परेचर जांचने का तरीका

मुंह से टेम्परेचर जांचने का तरीका

बड़े बच्चों और वयस्कों में मुंह से तापमान देखना सबसे आम तरीका है। मौखिक तापमान को सटीक तापमान माना जाता है। मुंह से तापमान लेने के लिए एक डिजिटल थर्मामीटर का उपयोग करना चाहिए। यदि आपने खाना में कुछ गर्म या ठंडा लिया है, तो आप कम से कम 30 मिनट तक प्रतीक्षा करें।

  1. थर्मामीटर की टिप को पूरी तरह से मुंह में जीभ के नीचे रखें।
  2. थर्मामीटर को केवल होंठ और उंगलियों के साथ पकड़ कर रखें, इसके लिए दांतों के उपयोग न करें।
  3. एक मिनट तक या थर्मामीटर बीप तक इसे मुंह में ऐसे ही रखें।
  4. बीप के बाद थर्मामीटर को मुंह से बाहर निकालें और रीडिंग लें।

अंडरआर्म से तापमान चेक करना का तरीका

अंडरआर्म से तापमान चेक करना का तरीका

एक डिजिटल थर्मामीटर, लेड वाले थर्मामीटर अंडरआर्म तापमान लेने के लिए उपयोगी है। क्योंकि लेड वाले थर्मामीटर टूटने पर खतरनाक हो सकता है। अंडरआर्म (Underarm) से तापमान को मापने के लिए निम्न तरीके हैं-

  1. सबसे पहले थर्मामीटर को चालू करें।
  2. अब जिसका तापमान देखना है उसका हाथ ऊपर उठायें और थर्मामीटर की नोक को अपनी बांह के नीचे रखें।
  3. इसके बाद प्रतीक्षा करें, तापमान की जाँच होने में लगभग एक मिनट लगेगा।
  4. जब थर्मामीटर बीप हो तो उसके बाद आप उसे बांह के नीचे से निकाल लें और तापमान को पढ़ें।
  5. थर्मामीटर को साफ करें और इसके अगले उपयोग के लिए स्टोर करें।

कान से बॉडी टेम्परेचर लेने का तरीका

कान से तापमान को देखने के लिए आपको एक विशेष इयर थर्मामीटर की आवश्यकता होती है। कान का तापमान देखने के लिए आप निम्न स्टेप्स को करें।

  1. सबसे पहले थर्मामीटर टिप को अच्छे से साफ करें और उपयोग के लिए इसे चालू करें।
  2. बाहरी कान पर धीरे से लगा लें।
  3. अब एक सेकंड के लिए थर्मामीटर के बटन को दबाएं।
  4. फिर थर्मामीटर को ध्यान से निकालें और तापमान को पढ़ें।

माथा से तापमान जांचने का तरीका

माथा से तापमान जांचने का तरीका

माथे से तापमान की रीडिंग सटीक होती है और इसमें असुविधा भी नहीं होती है। आप माथे से तापमान लेने के लिए, माथे थर्मामीटर का उपयोग करें।

  1. सबसे थर्मामीटर चालू करें और सेंसर सिर को अपने माथे के बीचे में रखें।
  2. थर्मामीटर को अच्छे से पकड़ कर थोड़ी देर के लिए स्थिर रखें।
  3. फिर डिस्प्ले पर टेम्परेचर रीडिंग को देखें।

रेक्टल एरिया से तापमान लेना

रेक्टल एरिया (rectal area) तापमान को सबसे सटीक तापमान रीडिंग माना जाता है जो कि बच्चों में ही इस्तेमाल होता है। यह उन बच्चों में तापमान पर नजर रखने के लिए सबसे उपयोगी है जो शरीर के तापमान में बदलाव के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं।  इसका इस्तेमाल करना आसान होता है। इसे बस रेनल एरिया में लगाकर तापमान लेना होता है। ध्यान रखें कि कभी भी एक ही रेक्टल थर्मामीटर का उपयोग बॉडी और मौखिक तापमान लेने के लिए न करें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration