अपने मंगेतर या बॉयफ्रेंड/प्रेमी के लिए रख रहीं हैं करवाचौथ का व्रत? तो इन बातों का रखें ध्यान

अपने मंगेतर या बॉयफ्रेंड/प्रेमी के लिए रख रहीं हैं करवाचौथ का व्रत? तो इन बातों का रखें ध्यान - Karwa Chauth Rituals for Unmarried Girls, Vrat Vidhi & Rules in Hindi
Written by Anamika

Unmarried Girl Karwa Chauth Fast In Hindi क्या आपको पता है अविवाहित लड़कियां भी अपने मंगेतर या इच्छित पतियों के लिए करवा चौथ का व्रत रखती हैं। हर साल करवाचौथ का त्योहार कार्तिक मास के चौथे दिन मनाया जाता है। इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए निर्जला व्रत रखती हैं और रात में चांद देखने के बाद पति के हाथों से पानी पीकर अपना व्रत खोलती हैं। लेकिन अब कुंवारी लड़कियां भी करवाचौथ का व्रत रखने लगी हैं। जो लड़कियां रिलेशनशिप में होती हैं और उनका कोई ब्वॉयफ्रेंड होता है, तो वो करवा चौथ का व्रत रखती ही हैं लेकिन जिन लड़कियों का कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं होता है वो भी पूरी श्रद्धा से करवा चौथ का व्रत रखती हैं।

अब आप यह जानने के लिए इच्छुक होंगे कि सुहागिन महिलाएं तो पति के हाथों पानी पीकर व्रत खोलती हैं लेकिन कुंवारी लड़कियां करवा चौथ का व्रत कैसे खोलती होंगी और क्या वे भी सुहागिन महिलाओं की तरह ही इस कठिन व्रत को रखकर पूजा पाठ करती हैं। इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि कुंवारी लड़कियों को करवा चौथ का व्रत रखना चाहिए या नहीं और उन्हें किस तरह से पूजा करनी चाहिए।

कुंवारी लड़कियों के लिए करवाचौथ व्रत कितना सही? – Can a unmarried girl do Karva Chauth in Hindi?

कुंवारी लड़कियों के लिए करवाचौथ व्रत कितना सही? - Can a unmarried girl do Karva Chauth in Hindi?

हिंदू धर्म के पुराणों के अनुसार करवा चौथ का व्रत पति के लिए रखा जाता है। सुहागिन महिलाएं करवाचौथ का व्रत रखकर अपने पति के दीर्घायु की कामना करती हैं। लेकिन ज्योतिषों का मानना है कि कुंवारी लड़कियां भी पूरे विधि विधान के साथ करवा चौथ का व्रत रख सकती हैं और अपने ब्वॉयफ्रेंड को भावी पति मानकर उसके लंबे और सुखी जीवन एवं अच्छे स्वास्थ्य की कामना कर सकती हैं। इसके अलावा अच्छे वर की प्राप्ति के लिए भी कुंवारी कन्याएं यह व्रत रख सकती हैं।

पति के लिए रखे जाने वाले अन्य व्रत की तरह ही करवा चौथ महज एक व्रत है और जिस तरह कुंवारी लड़कियां अच्छे पति के लिए भगवान शिव की आराधना करती हैं और सोमवार का व्रत रखती हैं, ठीक उसी तरह करवाचौथ का भी व्रत रख सकती हैं। इस तरह से करवा चौथ का व्रत रखना कुंवारी लड़कियों के लिए किसी तरह से नुकसानदायक नहीं है।

(और पढ़े – करवा चौथ 2019: करवा चौथ कब है, तिथि, समय, व्रत का महत्‍व और पूजाविधि)

कुंवारी लड़कियों के लिए करवाचौथ व्रत के नियम karva chauth vrat vidhi for unmarried in Hindi

कुंवारी लड़कियों के लिए करवाचौथ व्रत के नियम - karva chauth vrat vidhi for unmarried in Hindi

जाहिर है कि अगर आप सुहागिन नहीं हैं और अभी कुंवारी कन्या हैं तो आपके लिए करवा चौथ के व्रत का नियम भी सुहागिन महिलाओं से अलग ही होगा। जैसे की आप मांग में सिंदूर नहीं भर सकतीं और ना ही सुहागिन महिलाओं की तरह सोलह श्रृंगार करना शोभा देगा। ज्योतिषों की मानें तो कुंवारी कन्याओं के लिए करवा चौथ पूजा के नियम काफी अलग होते हैं। जिस तरह से सुहागिन महिलाएं करवा चौथ का निर्जला व्रत रखती हैं उस तरह से कुंवारी कन्याओं को व्रत नहीं रखना चाहिए बल्कि उन्हें निराहार व्रत रखना चाहिए, अर्थात् कुंवारी कन्याएं करवा चौथ के उपवास के दौरान पानी पी सकती हैं लेकिन कोई आहार नहीं ग्रहण कर सकती हैं।

 कुंवारी लड़कियों के लिए करवाचौथ पूजा के नियम karva chauth pooja vidhi for unmarried in Hindi

करवा चौथ का व्रत रखने वाली सुहागिन महिलाएं करवा सजाकर पूरे विधि विधान से पूजा करती हैं। इसके लिए करवा पूजन की ज्यादातर सामग्री सुहागिन महिलाओं के मायके से आती है। लेकिन अविवाहित लड़कियों के लिए करवा चौथ व्रत की पूजन विधि अलग होती है। उन्हें पूजा के लिए इतनी सामग्री की जरूरत नहीं पड़ती है और चांद निकलने पर कुंवारी कन्याओं को चंद्रमा की पूजा करने के बाद भगवान शिव और माता पार्वती की भी पूजा करनी चाहिए। कुंवारी कन्याओं को चांद में अपने पति के रुप की कल्पना करनी चाहिए और शिव पार्वती की विधि विधान से पूजा करके अपने लिए अच्छे वर की कामना करनी चाहिए और यदि आपने अपने ब्वॉयफ्रेंड के लिए करवा चौथ का व्रत रखा है तो उसके लंबी उम्र के लिए कामना करनी चाहिए।

(और पढ़े – करवाचौथ कैसे मनाया जाता है, जानिए व्रत और पूजन विधि)

कुंवारी लड़कियों को भी मिलता है करवा माता का आशीर्वाद – karwa mata blessings for unmarried girls in Hindi

ज्योतिषों का मानना है कि करवा चौथ का व्रत रखने वाली कुंवारी लड़कियों को भी माता करवा आशीर्वाद प्रदान करती हैं जिससे उन्हें मनचाहे वर की प्राप्ति होती है। जो लड़कियां करवाचौथ का व्रत रखकर करवा माता की आराधना करती हैं उनके प्रेमी की उम्र लंबी होती है और भविष्य में उनका अपने प्रेमी से ही गठबंधन होता है। यही कारण है कि देश भर में ज्यादातर लड़कियां अच्छा पति पाने के लिए शादी से पहले ही करवा चौथ का व्रत रखना प्रारंभ कर देती हैं।

अगर आप भी कुंवारी हैं और करवा चौथ का व्रत रखने वाली हैं तो पूरी श्रद्धा से निराहार व्रत रखकर शिव पार्वती और करवा माता की पूजा करें। आपको भी मनचाहा पति जरूर मिलेगा, और हां कुंवारी कन्याएं बेशक करवा चौथ का व्रत रख सकती हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration