जानिए क्या होता है हाईट एंड वेट चार्ट- What is Height and Weight Chart in Hindi

जानिए क्या होता है हाईट एंड वेट चार्ट- What is Height and Weight Chart in Hindi
Written by Anshika sarda

Height and weight chart in Hindi उम्र के अनुसार कद ज्यादा या कम होना स्वाभाविक है लेकिन कद के अनुसार ही शरीर का वजन होना बहुत जरूरी होता है। अगर आपके कद से अधिक या कम आपका वजन होता है तो आप अनचाहे मोटापे या दुबलेपन का शिकार हो सकते हैं। इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं हाईट एंड वेट चार्ट के बारे में जिससे आप पता लगा सकते हैं कि आपके कद के अनुसार आपका वजन कितना होना चाहिए।

शिशु के पैदा होने के बाद धीरे-धीरे उसका विकास होता है। शिशु की उम्र बढ़ने के साथ-साथ उसका कद, वजन आदि भी बढ़ते हैं। निश्चित उम्र तक मानव शरीर का कद बढ़ता है और कद के अनुसार ही उसका वजन भी बढ़ता है। टीनएज में हार्मोन्स में बदलाव होता है और किशोर- किशोरीयां युवाअवस्था में कदम रखते हैं। उम्र के अनुसार लोगों का कद अलग-अलग होता है, एक ही उम्र के लोगों का कद भी आपस में बड़ा-छोटा हो सकता है।

आइडियल बॉडी वेट कैलकुलेटर Ideal Body Weight Calculator in hindi

आइडियल बॉडी वेट कैलकुलेटर से आप अपने कद का पता लगा सकते हैं। कुछ फॉर्मूला के आधार पर लिंग और कद के अनुसार अपने वजन का पता लगा सकते हैं। आइडियल बॉडी वेट के कई सारे फॉर्मूला है। आईए जानते हैं बॉडी वेट और हाइट से जुड़े सभी तथ्यों के बारे में।

(और पढ़े – बॉडी मास इंडैक्स (BMI) से कैसे जाने अपना मोटापा)

आदर्श बॉडी वेट फॉर्मूला के प्रकार-Ideal Body Weight formula in hindi

  • रॉबिन्सन फॉर्मूला
  • मिलर फॉर्मूला
  • डिवाइन फॉर्मूला
  • हमवाई फॉर्मूला
  • हेल्दी बॉडी मास इंडेक्स

ये सभी फॉर्मूला 20 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए आप अप्लाई कर सकते हैं।

उम्र के अनुसार हाईट एंड वेट चार्ट –   According to Age Height and Weight Chart in hindi

इस थ्योरी के अनुसार उम्र को बॉडी मास इंडेक्स की कोई संख्या नहीं समझा जाता है। ऐसा इसलिए होता है कि उम्र के अनुसार मनुष्य का कद सिर्फ एक निश्चित सीमा तक बढ़ता है। वयस्क अवस्था के बाद माना जाता है कि मानव शरीर केवल 1- 2 इंच कद बढ़ा सकता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हड्डियों के थोड़ा सा घटने और बढ़ने से कद बढ़ने जैसा एहसास हो सकता है। यह याद रखना जरूरी होता है की उम्र के साथ-साथ व्यक्ति का लीन मसल मास कम हो जाता है और अतिरिक्त बॉडी फैट भी कम हो जाता है।

लिंग के अनुसार वजन और ऊंचाई – Height and weight according to Gander in hindi

कद और वजन उम्र के अनुसार महिलाओं और पुरुषों में अलग-अलग होता है। महिलाओं का वजन और कद अक्सर पुरुषों से कम होता है। पुरुषों का मसल मास, फिजिकली और आनुवांशिक रुप से महिलाओं से अधिक होता है। महिलाओं का सिर्फ मसल मास ही कम नहीं होता बल्कि बोन डेनसिटी भी कम होती है।

(और पढ़े – लंबाई बढ़ाने के आसान तरीके)

कद के अनुसार वजन और ऊंचाई –  Height and weight according to height in hindi

कद के अनुसार व्यक्ति के शरीर का वजन मापा जाता है इसलिए यह आइडियल बॉडी वेट का मुख्य फैक्टर होता है। महिला और पुरुषों का कद समान होने पर भी वजन अलग-अलग होता है। पुरुष अक्सर समान कद की महिलाओं से 10-20 प्रतिशत तक भारी होते हैं।

हाईट एंड वेट फॉर्मूला Height and weight formula in hindi

हाईट एंड वेट फॉर्मूला - Height and weight formula in hindi

BMI =( kg/m² ) weight in kilograms. ————— height in meters².

1. जी.जे.हामवी फॉर्मूला (1964)- G. J. Hamwi Formula (1964) for Height and weight chart in Hindi

पुरुष – 48.0 kg + 2.7 kg per inch over 5 feet (2.7 किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर )

महिलाएं-  45.5 kg+ 2. 2kg per inch over 5 feet (2.7 किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर)

2. बी.जे डिवाइन फॉर्मूला (1974)- B. J. Devine Formula (1974) for Height and weight chart in Hindi

पुरुष – 50.0 + 2.3 kg per inch over 5 feet  ( 2.3  किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर )

महिलाएं- 45.5 + 2.3 kg per inch over 5 feet  ( 2.3  किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर)

3. जे.डी.रॉबिन्सन फॉर्मूला (1983)- J. D. Robinson Formula (1983) for Height and weight chart in Hindi

पुरुष- 52 kg + 1.9 kg per inch over 5 feet  (1.9 किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर )

महिलाएं-  49 kg + 1.7 kg per inch over 5 feet ( 1.7  किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर )

4. डी.आर. मिलर फॉर्मूला (1983)- D. R. Miller Formula (1983) for Height and weight chart in Hindi

पुरुष –  56.2 kg + 1.41 kg per inch over 5 feet  (1.41 किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर )

महिलाएं-  53.1 kg + 1.36 kg per inch over 5 feet  (1.36   किलो प्रति इंच प्रति 5 फुट से अधिक ऊंचाई पर )

हाईट एंड वेट चार्ट की उपयोगिता – Benefits of Height and weight chart in hindi 

आपने ध्यान दिया होगा की आपके बीमारी के बारे में लक्षणों की जानकारी लेते समय डॉक्टर आपकी उम्र के बारे में पूछता है। साथ ही आपके कद और वजन का डेटा भी नोट करता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कई बार कद के अनुसार वजन ना होने पर आप किसी बीमारी के शिकार हो सकते हैं। ऐसे में आपको यह जानना जरूरी होता है की आपके कद के अनुसार आपका वजन क्या होना चाहिए। इसके लिए आप हाइट एंड वेट चार्ट के फॉर्मूला का सहारा ले सकते हैं। जिससे आप वजन का सही अंदाजा लगाकर परफेक्ट वजन और कद पाने के लिए वर्कआउट कर सकते हैं और डाइट प्लान फोलो कर सकते हैं।

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration