आखिर क्यों भारत को माना जाता है कामसूत्र का जन्मदाता – why is India supposed to be the creator of Kamatsutra in hindi

आखिर क्यों भारत को माना जाता है कामसूत्र का जन्मदाता - why is India supposed to be the creator of Kamatsutra in hindi
Written by Daivansh

कामसूत्र काफी प्रसिद्ध किताब है। इसके ऊपर कई फिल्मों भी बन चुकी है। फिर क्या कारण है आज भी इसका नाम लेते ही लोगो अंजान बनने का नाटक करते है। एक और जहां हमारा समाज आधुनिकता की बात कर रहा है तो वहीं अगर सेक्स या कामसूत्र की बात करते है तो लोगों को इससे शर्म आती है। ये सच है कि भारत को कामसूत्र की जन्मभूमि कहा जाता है। एसा माना जाता है कई कामसूत्र का जन्मदाता येही है ये किताब कई सदियों पहले लिखी गई थी जिसका संबंध सिर्फ सेक्स नहीं था।

ये किताब उस देश में लिखी गई है जहां आज भी लड़के और लड़की आपस में इस तरह की बातें नहीं कर सकते है। ऐसा देश जहां सेक्स की बात करना भी पाप माना जाता है आखिर इस देश में इस किताब का जन्म क्यों हुआ था। कई ऐसे सवाल है जो मन में सवाल पैदा करते है। आज हम कामसूत्र का जन्मदाता और कामसूत्र के बारे में बात करेंगें।

क्या है कामसूत्र का मतलब – What is the meaning of Kama Sutra in hindi

कामसूत्र का नाम सुनते ही दिमाग में जो सबसे पहली चीज आती है वो होती है सेक्स से संबंधिक क्रिया। लेकिन इस किताब के टाइटल कामसूत्र का मतलब आनंद होता है। इसका मतलब किसी चीज से जो आनंद उत्पन्न होता है उसे कामसूत्र करते है।

(और पढ़े: कामसूत्र की यह 10 बाते पुरषों को बिस्तर पर बनाती है बादशाह)

सेक्स पोजीशन को समझाया गया – Sex position Explained in hindi

इसने कई प्रकार की सेक्स पोजीशन को समझाया गया है इस किताब में सेक्स से संबंधित कुछ क्रियाओं को समझाया गया है। इस किताब को तीसरी शताब्दी में लिखा गया था। इसका को मतलब तो जरूर रहा होगा। इसमें सेक्स करने की पोजीशन्स को बताया गया है। इसका सीधा मतलब सेक्स के दौरान गलतियों को ध्यान में रखना है।

विचारों का सम्मान है जरुरी – Respect for ideas is important in hindi

इस किताब में स्त्री और पुरुष दोनो के सम्मान की बात गई है। इसमें बताया गया है कि किसी स्त्री के सहमति के बिना संभोग क्रिया को अंजाम देना गलत है। इसके लिए दोनो की सहमति आवश्यक है। इस किताब में दोनो के सम्मान की बात प्रमुख है। (और पढ़े: कामसूत्र और योगासन में क्या है संबंध)

प्राचीन मंदिरों में मोजूद है तस्वीरें – Photos in ancient temples in hindi

भारत में एक नहीं बल्कि की पुराने मंदिरों में आपको ऐसी नग्न और अर्ध नग्न तस्वीरे मिल जाएंगी जिनमें कामवासना को अंजाम देते हुए दिखाया गया है। किसी चित्र में कोई अप्सरा मटके में पानी लेकर जाती हुई तो किसी में स्नान करते हुए भी दिख सकती है। (और पढ़े: इन संकेतो से पहचाने की कहीं आपको हस्‍तमैथुन की लत तो नहीं)

उस समय की सोच को बताती है तस्वीरें – Photos of that time explain thinking in hindi

कई तस्वीरों में आपको पुरुषों और महिलाओं की कामुकता को दिखाया गया है। ऐसी तस्वीरे ये बताती है कि उस समय की कहानी और मानसिकता किस तरह की रही होगी। उस समय की सोच आज की सोच से कितनी आगे थी। ये तस्वीरें इन चीजों को  भलिभांति दर्शाती है।(और पढ़े: कामसूत्र से जुड़े कुछ मिथक)

क्या कहता है आज का दौर – What does today say in hindi

आपको अगर आज के दौर की बात करे तो आज सेक्स की बात जो भी करता है उसके कैरेक्टर को खराब माना जाता है। आज के दौर में इसको काफी नीची निगाह से देखा जाता है। कामसूत्र का जन्मदाता होने के बाद भी आज कामसूत्र यहाँ रहस्य बना हुआ है

Leave a Comment

Subscribe for daily wellness inspiration